एक लाख वृक्षारोपण महाअभियान का हुआ शुभारंभ

प्रकृति का सौन्दर्य बनाये रखने को पर्यावरण संरक्षण जरूरी : बेबीरानी


भारत नमन ब्यूरो /ऋषिकेश 29 जनवरी।परमार्थ निकेतन एवं एचडीएफसी बैंक के संयुक्त तत्वावधान में आज रेलवे रोड पर एक लाख वृक्षारोपण महाअभियान का शुभारंभ राज्यपाल बेबी रानी मौर्य, उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद अग्रवाल एवं परमार्थ निकेतन के संस्थापक चिदानंद मुनि जी महाराज द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।इस दौरान वृक्षारोपण कर सभी के द्वारा पर्यावरण के संरक्षण एवं संवर्धन का आह्वान किया गया।


परमार्थ निकेतन द्वारा 2लाख पौधे रोपित करने का लक्ष्य तय किया गया है।जिसमें एचडीएफसी बैंक ने सहभागिता दिखाकर 1 लाख पौधे लगवाने की शुरुआत की है।कार्यक्रम का शुभारंभ विधिवत मंत्रोच्चार के बीच दीप प्रज्वलित कर किया गया।इस अवसर पर  चिदानंद महाराज द्वारा सभी अतिथियों को रुद्राक्ष का पौधा भी भेंट किया गया।


इस अवसर पर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा कि वसंत पंचमी के महत्व को बचाए रखने के लिए इस प्रकार का आयोजन होना आवश्यक है।उन्होने सभी से आह्वान किया कि पौधे रोपित कर उसकी देखभाल अपने बच्चों की जैसे की जाए। राज्यपाल ने कहा कि प्रकृति के  सौंदर्य  को बनाए रखने के लिए पर्यावरण संरक्षण ज़रूरी है। साथ ही असामान्य मौसम को वृक्षारोपण के माध्यम से ही ठीक किया जा सकता है। उन्होने वृक्षारोपण को अपनी जीवनशैली मैं लाने की अपील की।


विधानसभा अध्यक्ष ने सभी की खुशहाली व प्रगति की कामना करते हुए आशा व्यक्त की है कि बसंत ऋतु उत्तराखण्ड वासियों के जीवन में नई उमंग और उत्साह का संचार करेगी।श्री अग्रवाल ने कहा कि बसंत पंचमी का त्योहार हरियाली का प्रतीक है। इस दिन मॉ सरस्वती की पूजा कर सभी की समृद्धि की कामना की जाती है।उन्होंने प्रकृति के संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए संकल्प लेने की अपील की। अग्रवाल ने कहा कि पर्यावरण की यात्रा महायात्रा है एवं अन्य संस्थाएं, कंपनियॉ भी इस अभियान के साथ जुड़ कर अपनी सहभागिता दे।


 इस अवसर पर परमार्थ निकेतन के संस्थापक चिदानंद मुनि ने कहा कि विगत कई वर्षों से परमार्थ निकेतन  वृक्षारोपण के माध्यम से पर्यावरण के संरक्षन के क्षेत्र में कार्य कर रहा है । चिदानंद जी ने देश की एकता एवं अखंडता को बनाए रखने की अपील की।


 इस अवसर पर ऋषिकेश  नगर निगम की महापौर अनिता ममगाई, एचडीएफ के क्षेत्रीय प्रबंधक संजीव कुमार, एम्स के डॉक्टर रविकांत, समाज सेवी इन्द्र प्रकाश अग्रवाल, नरेंद्र  मिश्रा, सरदार दर्शन सिंह, बिसेन खन्ना, मदन मोहन शर्मा, अनिल मल्होत्रा, इन्द्रा आर्य, सरोजनी थपलियाल, गोबिन्द अग्रवाल, गंगा नंदनी सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।


टिप्पणियाँ