नेत्रहीन राजू को मकान दिलाने की मांग

भारत नमन ब्यूरो /हरिद्वार। ज्वालापुर के पाण्डेवाला निवासियों ने क्षेत्र के ही रहने वाले नेत्रहीन राजू को जेएनयूआरएम योजना के तहत नगर निगम द्वारा बनायी गयी आवास योजना में मकान आवंटित करने की मांग की है। रघुनाथ मंदिर में हुई क्षेत्रवासियों की बैठक को संबोधित करते हुए सचिन कौशिक ने कहा कि जेएनयूआरएम योजना के तहत पांडे वाला क्षेत्र में 96 मकान बनाए गए थे। उन्होंने कहा कि पाण्डेवाला क्षेत्र की रहने वाली गरीब महिला सीतादेवी ने भी मकान आवंटन के लिए आवेदन किया था। आवंटन के लिए उनका चयन भी कर लिया गया था। मकान मिलने का इंतजार करते करते सीतादेवी की मृत्यु हो गयी। लेकिन उन्हें मकान नहीं मिला। उनका पुत्र राजू जो कि नेत्रहीन हैै, इसलिए उसे मकान आवंटित किया जाना चाहिए। मकान आवंटन के लिए राजू दर दर भटक रहा है। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक व रानीपुर विधायक आदेश चौहान भी राजू को मकान आवंटित किए जाने की अनुशंसा कर चुके हैं। इसके बावजूद भी उसे मकान नहीं दिया जा रहा है। नेत्रहीन होने के कारण वह कोई काम करने में भी सक्षम नहीं है। किराए के मकान में रहने को मजबूर है। आसपास व पड़ोस के लोग ही मकान किराया भरते हैं तथा खाने की व्यवस्था भी करते हैं। सचिन कौशिक ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी सीतादेवी की मृत्यु होने पर उनके पुत्र राजू को मकान दिए जाने की संस्तुति कर चुके हैं। उसके बावजूद भी विभागीय अटकलों के चलते राजू को मकान नहीं मिल पा रहा है। विपुल मिश्रोटे, आशीष शर्मा ने कहा कि मकान आवंटन में स्थानीय लोगों की उपेक्षा की गयी। उन्होंने मांग की कि मकान आवंटन प्रक्रिया की जाचं होनी चाहिए। बैठक में शामिल लोगों ने चेतावनी देते हुए यदि राजू को मकान नहीं मिला तो पूरे मामले को मुख्यमंत्री तक ले जाया जाएगा। बैठक में अवधेश कौशिक, ओमप्रकाश, प्रदीप निगारे, नितिन कौशिक, संजय, मोनू चाकलान, बाबू सैनी, राजू सैनी, श्याम अग्रवाल, प्रीतम सैनी, लक्की सैनी, उमाशंकर वशिष्ठ, राजू गढ़वाली आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।


टिप्पणियाँ