युवा कांग्रेस एनआरसी की तर्ज पर बेरोजगारों का रजिस्टर तैयार करेगी

भारत नमन ब्यूरो /हरिद्वार। युवा कांग्रेस ने देश भर में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर की तरह बेरोजगारों का रजिस्टर तैयार करने की मुहिम शुरू की है। रजिस्टर बनाने का उददे्श्य बेरोजगारी के प्रति केन्द्र सरकार का ध्यान आकृष्ट करना है। शनिवार को प्रैस क्लब में पत्रकारों को जानकारी देते हुए यूथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुमित्तर भुल्लर ने बताया कि प्रदेश में बेरोजगारी की स्थिति बेहद चिंताजनक है। सरकार बेरोजगारी को छोड़कर अन्य सभी मुद्दों पर चर्चा कर रही है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार सरकार राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर तैयार कर रही है। उसी प्रकार बेरोजगारों का भी रजिस्टर तैयार किया जाना चाहिए। सरकार एनपीआर, एनआरसी जैसे विवादित मुद्दे उठाकर वास्तविक समस्याओं से लोगों को ध्यान हटाने का प्रयास कर रही है। बढ़ती बेरोजगारी जैसे गंभीर विषय पर कहीं कोई चर्चा नहीं है। पिछले 45 सालों में देश में देश में बेरोजगारी की स्थिति सबसे अधिक गंभीर है। जनता का ध्यान भटकाने के लिए जाति व धार्मिक मुद्दों को हवा दी जा रही है। बढ़ती बेरोजगारी के प्रति सरकार का ध्यान आकृष्ट करने के लिए यूथ कांग्रेस ने बेरोजगारों का रजिस्टर तैयार करने की मुहिम शुरू की है। मुहिम के अंतर्गत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में बेरोजगारों का पंजीकरण किया जाएगा। इसके लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया जा रहा है। नंबर पर मिस काॅल कर बेरोजगार रजिस्टर में अपना पंजीकरण करा सकते हैं। सुमित्तर भुल्लर ने बताया कि हरिद्वार विधानसभा क्षेत्र का प्रभारी यूथ कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष रवि बहादुर इंजीनियर को बनाया गया है। इसी प्रकार प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में प्रभारी नियुक्त किए गए हैं। प्रदेश में बेरोजगारी के वास्तविक आंकड़े एकत्र कर विधानसभा सत्र में बेराजगारी की समस्या को उठाया जाएगा। रवि बहादुर इंजीनियर ने बताया कि प्रदेश में बेरोजगारी की स्थिति बेहद गंभीर है। प्रदेश में बेेरोजगारी का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। बेरोजगारी की वजह से युवा प्रदेश से पलायन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र के बेरोजगारों के आंकड़े दर्ज करने के लिए युवा कांग्रेस द्वारा शुरू की गयी मुहिम का व्यापक रूप से प्रचार प्रसार किया जाएगा। युवा कांग्रेस के शहर अध्यक्ष नितिन तेश्वर, रामविशाल देव व अनिल भास्कर ने कहा कि मोदी सरकार युवा वर्ग को रोजगार देने के बजाए धार्मिक मुद्दों के जरिए गुमराह कर रही है। पीएम मोदी ने 2014 के चुनाव के दौरान प्रतिवर्ष दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था। मोदी सरकार को दूसरा कार्यकाल चल रहा है। लेकिन रोजगार के मोर्चे पर सरकार पूरी तरह विफल साबित हुई है। बताया कि यूथ कांगे्रस की बेरोजगारी रजिस्टर तैयार करने की मुहिम का पूरे प्रदेश में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाएगा। प्रैसवार्ता के दौरान विशाल खैरवाल, शाहनवाज कुरैशी, हिमांशु बहुगुणा आदि सहित दर्जनों युवा कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।


टिप्पणियां