बेहतर कचरा प्रबंधन पर तीन दिवसीय कार्यशाला का समापन

भारत नमन ब्यूरो /हरिद्वार। स्वच्छता मिशन को आम जन तक और तेजी से ले जाने तथा बेहतर कचरा प्रबंधन को लेकर आयोजित तीन दिवसीय स्वच्छ भारत मिशन अनावृत्ति कार्यशाला का बुधवार को समापन हो गया। अंतिम दिन स्वच्छता और कूड़े के सग्रेगेशन के बारे में जानकारी दी गई। प्रतिभागियों को सर्टिफिकेट बांटे गए।उत्तरी हरिद्वार स्थित एक होटल में आयोजित कार्यशाला में नगरीय पर्यावरण संरक्षण परिषद के उपाध्यक्ष प्रकाश हरबोला अतिथि रहे। कार्यशाला में प्रतिभागियों को स्वच्छता के साथ ही कूड़े की किस तरह छंटाई कर अलग-अलग करना है। इसको लेकर प्रशिक्षण दिया गया। साथ ही ठोस अपशिष्ठ प्रबंधन के लिए डीपीआर तैयार करने की भी जानकारी दी। 12 प्रतिभागियों को चुनकर स्वच्छता को लेकर प्रतियोगिता कराई गई। इसके साथ ही कार्यशाला में प्रतिभाग करने वालों को प्रमाण पत्र दिए गए। बता दें कि स्वच्छता सर्वेक्षण-2020 के तहत शहरों में स्वच्छता एवं हरियाली बढ़ाने के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी देने के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें विशेषज्ञों ने प्रतिभागियों को स्वच्छ भारत मिशन के तहत डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन, पृथक्कीकरण, गीले एवं सूखे कचरे के निष्पादन के संबंध में भी जानकारी दी गई। इस दौरान उप निदेशक शहरी विकास नीरज जोशी, विशेषज्ञ अजीत तिवारी, एसएनए उत्तम सिंह नेगी, महेंद्र यादव, केआरएल प्रबंधक सुखबीर सिंह, विदित शर्मा आदि शामिल रहे।


टिप्पणियाँ