संत रविदास के विचार हमेशा प्रासंगिक : अनिता ममगाई

एसके विरमानी /ऋषिकेश |आईडीपीएल के गीता नगर क्षेत्र स्थित संत रविदास मंदिर में शिरोमणि रविदास जयंती बेहद श्रद्वा और उल्लास  से मनाई गई। जयंती के मौके पर विचार गोष्ठी  सहित कई कार्यक्रम आयोजित किए गए, वहीं मंदिर से भव्य शोभायात्रा भी निकाली गई। यात्रा में सुंदर झांकियां आकर्षण का केंद्र रही। इस मौके पर समाज में छूआछूत जैसी सामाजिक कुरीतियों को खत्म कर एक सभ्य समाज का निर्माण किए जाने का संकल्प भी लिया गया। इससे पूर्व कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने कहा कि संत रविदास ने सामाजिक एवं आध्यात्मिक संघर्ष किया था।  उन्होंने इस मौके पर आयोजित विशाल भंडारे का भी रिबन काटकर शुभारंभ किया। इस अवसर पर महापौर ने कहा कि संत रविदास ने एक सभ्य समाज की न सिर्फ कल्पना की, बल्कि उसे मूर्त रूप देने में भी अहम भूमिका निभाई। महापौर ममगाई ने  कहा कि गुरु जी ने सदैव ऊंच-नीच, जाति आदि के भेदभाव का विरोध किया और प्रेम सदभाव तथा अच्छे आचरण पर जोर दिया। उनके विचारों की प्रासंगिकता सदैव कायम रहेगी। इस अवसर पर  शूरवीर सिंह सजवाण, जयेन्द्र रमोला, विजेंद्र मोगा, अनीता प्रधान,पार्षद विजय बडोनी ,पार्षद गुरुविंदर सिंह,प्रिया ढकाल, मंडल मंत्री सुरेंद्र सिंह सुमन ,रविन्द्र राणा पार्षद लक्ष्मी रावत आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।


टिप्पणियाँ