समाजसेवी आनंद सिंह बिष्ट को पूरे सम्मान के साथ दी गयी अन्तिम विदाई


मुख्‍यमंत्री, विस अध्यक्ष सहित कईं मंत्री,सांसद शामिल हुए अंत्येष्टि में


एसके विरमानी /ऋषिकेश | यमकेश्वर गौरव, दिग्पुरुष यूपी के यशस्वी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के पिता यमकेश्वर में राष्ट्रीय स्वयं सेवक की प्रथम अलख जगाने वाले दिवंगतात्मा आनन्द सिंह बिष्ट को  फूलचट्टी घाट में लाकडाउन की मर्यादा को ध्यान मे रखते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री   त्रिवेन्‍द्र सिंह रावत की उपस्थिति  पूरे  सम्मान  के साथ  अन्तिम विदाई दी गयी। उनका अन्तिम संस्कार गार्ड आफ आनर के साथ किया गया |



इस मौके पर राज्य सरकार के  मंत्रीगण धनसिंह रावत ,  मदन कौशिक , गढवाल साँसद तीरथ सिंह रावत , बीजेपी के संगठन मंत्री अजय ,जिलाध्यक्ष  सम्पतसिंह रावत, पूर्व जिलाध्यक्ष शैलेन्दर बिष्ट , यमकेश्वर क्षेत्र पंचायत प्रमुख श्रीमती आशा भट्ट  , प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती कुसुम कण्डवाल , यमकेश्वर के क्षेत्र पंचायत  जेष्ठ प्रमुख  दिनेश भट्ट, प्रधान संगठन यमकेश्वर के संरक्षक रामलाल बेलवाल , लक्ष्मण झूला मंडल बीजेपी अध्यक्ष  गुरुपाल बत्रा , यमकेश्वर मंडल बीजेपी अध्यक्ष  नितिन बडोला,भाजपा मीडिया प्रभारी यमकेश्वर अलकेश कुकरेती के साथ - साथ योगगुरु बाबा रामदेव, आध्यात्मिक गुरु चिदानन्द स्वामी जी के अलावा कई गणमान्य  व्यक्तियों ने श्रदांजलिअर्पित की |



इससे पूर्व आज मुख्‍यमंत्री त्रिवेन्‍द्र सिंह रावत ने फूलचट्टी में गंगातट पर समाजसेवी और उप्र के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट की पार्थिव  देह पर  पुष्प चक्र अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी | इस मौके पर मुख्‍यमंत्री ने अपने सन्देश में कहा कि स्व. आनंद सिंह बिष्ट जैसै समाजसेवी की कमी प्रदेश को खलेगी | इनके द्वारा समाज के प्रति किये गये कार्यों को सदैव याद रखा जायेगा |



इसके साथ ही विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने भी समाजसेवी आनंद सिंह बिष्ट के अन्तिम संस्कार में भाग लिया | उन्होंने इससे पहले पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र चढ़ाकर दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की | विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि आनंद सिंह बिष्ट अत्यंत मिलनसार और मृदुभाषी थे | उन्होंने शिक्षा के माध्‍यम से समाज की सेवा की |


टिप्पणियां