कोरोना वारियर्स के भोजन में शिकायत पर चढ़ा मेयर का पारा


भोजन की जांच कराकर एसडीएम को दिये कड़े निर्देश


एसके विरमानी /ऋषिकेश |सीमा डेंटल कॉलेज में शिफ्ट कराए गए कोरोना वारियर्स के भोजन में शिकायत पाए जाने पर महापौर का पारा आज बुरी तरह से चढ़ गया। उन्होंने तत्काल उप जिलाधिकारी को फोन कर सुबह का नाश्ता एवं दोपहर का भोजन अपने कैंप कार्यालय में मंगवाया उसकी जांच करने के पश्चात सही पाए जाने पर महापौर द्वारा कोरोना योद्वाओं को परोसने के लिए भिजवाया गया। गौरतलब है कि एम्स हास्पिटल में कोरोना पॉजिटिव मामले लगातार सामने आने के बाद प्रशासन द्वारा एतियातन कुछ चिकित्सा स्टाफ  के रहने की व्यवस्था शहर के चुनिन्दा होटलों के अलावा सीमा डेंटल में की गई है।इन सबके बीच कल शिकायत मिली थी कि वहां कोरोना वारियर्स को परोसा जा रहा भोजन गुणवत्ता परक और पौष्टिक नही है। जिसका तुरंत संज्ञान लेते हुए सोमवार को अपने कैंप कार्यालय से नगर निगम महापौर ने सुबह का नाश्ता और दोपहर का भोजन मंगवाया और खुद उसकी जांच की। जांच में भोजन पौष्टिक पाये जाने पर महापौर द्वारा उसे परोसे जाने के निर्देश दिए गये। कोरोनामेयर ने उपजिलाधिकारी प्रेम लाल से इस गंभीर मामले को लेकर बात की ।


महापौर ने उपजिलाधिकारी को कहा कि प्रशासन यह सुनिश्चित कराये कि  किसी भी होटल अथवा सीमा डेंटल कॉलेज में रह रहे कोरोना वारियर्स के भोजन में शिकायत ना पाई जाए ।इसके लिए वह खुद भी भोजन का  निरीक्षण करवाएं।यही नही महापौर ने सीमा डेंटल में रह रहे कोरोना वारियर्स से भी दूरभाष पर बात की और उन्हें आश्वासन दिया कि  उन्हें किसी भी तरह की कोई दिक्कत होने पर वे अपनी समस्या से उन्हें अवगत कराएं ।आप हमारे हीरो हैं। आपको किसी भी तरह की कोई समस्या या परेशानी नहीं होने दी जाएगी। आपको बेहतर से बेहतर सुविधाएं मिले यह प्रशासन की जिम्मेवारी है ।इसमें किसी की तरह की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी।


टिप्पणियां