भारी बारिश और आंधी तूफ़ान की आशंका के मद्देनजर सावधानी बरतने की सलाह

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने भारी बारिश और आंधी तूफ़ान की आंशका को देखते हुए सभी जिलाधिकारियों से आवश्यक सावधानी बरतने की सलाह दी है।


राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिशासी निदेशक ने सभी जिलाधिकारियों को भेजे सर्कुलर में कहा कि राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केन्द्र  भारत मौसम विज्ञान विभाग नई दिल्ली द्वारा 3,4,5,6 और 7 जुलाई को उत्तराखंड के कुछ स्थानों पर भारी और बहुत भारी बारिश, आंधी तूफ़ान और आकाशीय बिजली की संभावना व्यक्त की है।


 आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिशासी निदेशक ने कहा कि मौसम पूर्वानुमान के मद्देनजर सभी तैयारियां कर ली जाएं आपदा प्रबंधन IRS प्रणाली के सभी नामित अधिकारी, कर्मचारी हाईअलर्ट पर रहेंगे। पुलिस प्रशासन के सभी अधिकारी, कर्मचारी भी हाईअलर्ट पर रहेंगे। कोई भी अधिकारी अपना मोबाइल इस अवधि में बंद नहीं करेंगे। 



इस बीच राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा देश के विभिन्न राज्यों के लिये मानसून अवधि के दौरान आकाशीय बिजली एवं आंधी तूफान हेतु मौसम विभाग द्वारा देश के विभिन्न राज्यों के लिये चेतावनी जारी की गई है जिसके सन्दर्भ में राज्यों के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ बैठक की    गई। बैठक में जनरल अता हसनन NDMA,  राजेन्द्र सदस्य NDMA,  कमल किशोर सदस्य NDMA थिरूपगल,सलाहकार NDMA महानिदेशक डॉ मृत्युंजय मोहापात्रा IMD, द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी राज्यों की आकाशीय बिजली एवं आंधी तूफान को ले कर तैयारी का ब्यौरा लिया गया। बैठक में उत्तराखंड से  एस ए मुरुगेसन ,प्रभारी सचिव उत्तरखंड आपदा विभाग,डॉ पीयूष रौतेला निदेशक,आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, राहुल जुगरान ने भाग लिया।


बैठक के दौरान राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने सभी राज्यों को कम समय में बेहतर तरीके से जन समुदाय को thunderstorm , lightning सम्बन्धित चेतावनी देने की सलाह दी ,कॉमन अलर्ट प्रोटोकॉल के माध्यम से चेतावनी को पहुंचाया जाए।अर्ली वार्निंग और जन जागरूकता के माध्यम से आकाशीय बिजली एवं आंधी तूफान के संदर्भ में लोगों को पहले से ही सूचित किया ताकि मानव शती को कम किया जा सके।साथ ही साथ फोरकास्ट वार्निंग सिस्टम के सुदृढ़ीकरण पर बल दिया।


टिप्पणियाँ