विजय दिवस पर विशेष


कारगिल का युद्ध 



  • सुशीला रोहिला


विजय दिवस मनाए,तिरंगा लहराए,


तिरंगा फहराए,तिरंगा लहराएl


आजादी के गीत गाए,जश्न मनाए,


तिरंगा लहराए,तिरंगा फहराएl


कारगिल युद्ध भूमि बड़ी महान,


शहीदों के लहू से हुआ श्रृंगारl


भारत की सेना ने किया कमाल,


पाक का हुआ था बुरा हालl


मिग २७,२९ की पड़ी पाक पर बौछार,


परमाणु बम का पड़ा अदभुत प्रहारl


घुसपैठियों की पैठ न जमने पाई,


संघर्ष की है यह कहानी।


२६ जुलाई १९९९ का नव उदित सवेरा,


विजय दिवस का पुष्प सुनहराl


बलिदान की है यह अमर कहानी,


अखण्ड भारत की जुबानीll


टिप्पणियाँ