कोविड - 19 को लेकर डीएम ने दिये स्वास्थ्य अधिकारियों को जरूरी निर्देश


कोरोना सूचनाओं का सटीक व त्वरित आदान प्रदान करें 


निजी अस्पताल पोर्टल पर विवरण जरूर दर्ज करें


भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव द्वारा वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग तथा सम्बन्धित अधिकारियों के साथ कोविड-19 से सम्बन्धित समीक्षा बैठक आयोजित करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।  


जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण जनपद में कोविड-19 के उपचार की प्रगति की जानकारी लेते हुए निर्देशित किया कि सभी अधिकारी कोविड-19 के उपचार से सम्बन्धित सूचनाओं का सटीक व त्वरित आदान प्रदान करें तथा निजी अस्पतालों से उसका विवरण भी अपडेट कराते रहें। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि निजी अस्पतालों को कोविड-19 के उपचार से सम्बन्धित बैड, वेंटिलेटर, आईसीयू इत्यादि बढाने के दिये गये लक्ष्य के अनुरूप व्यवस्थाएं सम्पादित करें तथा विभागीय स्तर से सम्बन्धित अस्पताल को जो सहायता दी जानी है उस पर त्वरित संज्ञान लेना सुनिश्चित करें। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि किसी भी अस्पताल को बिना एसआरएफ आईडी जनरेट किये सैम्पलिंग की अनुमति न दी जाय तथा होम आइसोलेशन के साथ ही कन्टेंनमेंट जोन में भी प्रोफाइलेक्टिक औषधियां दी जाय। उन्होंने कन्टेंनमेंट जोन की निरन्तर एक्टिव सर्विलांस करते रहने के अपर जिलाधिकारी वित्त राजस्व को तथा सभी उप जिलाधिकारियों से उनके क्षेत्र की कोविड-19 से सम्बन्धित अद्यतन विवरण प्राप्त करने के अपर जिलाधिकारी प्रशासन को निर्देश दिये। 


जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों से कहा कि जिन लोगों की सैम्पलिंग की जा रही है उनको होम आईसोलेट अथवा आईसोलेट एडवाईज भी देते रहें और उसका अनुपालन भी करवाते रहें। इसके अतिरिक्त उन्होंने कहा कि चूंकि निजी अस्पतालों को पोर्टल पर विवरण दर्ज करने से सम्बन्धित आईडी जनरेट की जा चुकी है, अतः सभी अस्पतालों से उनके यहां भर्ती किये गये पैशेन्ट्स, दी जा रही चिकित्सा सुविधा इत्यादि का विवरण दर्ज करने हेतु निर्देशित करें। उन्होंने अपर जिलाधिकारी प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को बाहरी राज्यों तथा अन्य जनपदों से आने वाले लोगों की बार्डर पर सैम्पलिंग करने की प्रक्रिया का पालन करवानें तथा आने वाले दिवसों में जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट में सैम्पलिंग इत्यादि के लिए हिमालयन हाॅस्पिटल जौलीग्रान्ट को कार्यदायित्व सौंपने को निर्देशित किया। साथ ही रेलवे स्टेशन पर तत्काल आरटीपीसीआर सैम्पलिंग प्रारम्भ करने और उसकी दैनिक निगरानी करने के भी निर्देश दिये। 


इस दौरान वीडियो कान्फ्रसिंग में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुदियाल एवं जी.सी गुणवंत कैम्प कार्यालय में उपस्थित थे तथा वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से अपर जिलाधिकारी प्रशासन अरविन्द पाण्डेय एवं मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ अनूज डिमरी, सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।


 


 


                                                  


टिप्पणियां