बालक-बालिकाओं के लिए कैरियर काउंसलिंग और स्ट्रेस मैनेजमेंट कार्यशाला


भारतनमन / देहरादून। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के द्वारा शहर परियोजना की ओर से ‘‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’’ योजना के अंतर्गत बालक एवं बालिकाओं को कैरियर काउंसलिंग एवं स्ट्रेस मैनेजमेंट पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।



प्रथम दिवस कार्यशाला में  प्रवीण गोस्वामी, सेवायोजन अधिकारी, देहरादून उत्तराखंड द्वारा रोजगार के अवसरों एवं स्वरोजगार पर जानकारी दी गई। द्वितीय दिवस को डॉक्टर सुरेंद्र ढालवाल प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष क्लिनिकल रिहैबिलिटेशन साइकोलॉजी, एनआईवीएच देहरादून द्वारा प्रतिभागियों को स्ट्रेस मैनेजमेंट पर ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया गया और प्रतिभागियों के प्रश्नों का सरलता के साथ जवाब दिया गया।बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती क्षमा बहुगुणा द्वारा बालिकाओं को नंदा गौरा योजना वह बाल विवाह के बारे में जानकारी दी गई।


राज्य समन्वयक, एसआरसीडब्ल्यू उत्तराखंड के द्वारा बालक एवं बालिकाओं को साइबर क्राइम के बारे में विस्तृत जानकारी के साथ-साथ ऑनलाइन अपने खातों को सुरक्षित रखने के लिए टिप्स दिए गए।



कार्यक्रम में राज्य समन्वयक विमला मखलोगा, जेंडर विशेषज्ञ सुप्रिया चंद, महिला कल्याण अधिकारी सरोज ध्यानी सुपरवाइजर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, उपस्थित रहे।


 


टिप्पणियां