तीर्थनगरी का हर कदम होगा स्वच्छता की ओर:अनिता ममगाई


शहर की दीवारों में दिखाई देंगे उत्तराखंड की संस्कृति के रंग : महापौर 


एसकेविरमानी / ऋषिकेश। तीर्थ नगरी तेजी से बदल रही है। शहर को खूबसूरत बनाने के लिए नगर निगम द्वारा तरह-तरह के अभिनव प्रयोग किए जा रहे हैं। इससे देवभूमि की आभा में चार चांद भी लगने शुरू हो गए हैं।


गढ़वाल के मुख्य द्वार कहे जाने वाली तीर्थ नगरी का शुमार देश और दुनिया भर में योग और अध्यात्म के साथ-साथ ऋषि मुनियों की तपोस्थली के रूप में सदियों से होता आया है। लेकिन निगम बनने से पूर्व 



जिस खूबसूरत शहर का सपना यहां रहने वाले लोग देखा करते थे वह पूरा नहीं हो पा रहा। हांलाकि अब स्थितियां तेजी से बदल रहे हैं। नगर पालिका से अपग्रेड होकर नगर निगम बनने के बाद पिछले दो वर्षों में देवभूमि तेजी के साथ बदलाव के दौर से गुजर रही है। शहर को सजाने संवारने की कवायद में निगम प्रशासन लगातार जुटा हुआ है।



नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने बताया कि नगर निगम का लक्ष्य हर कदम स्वच्छता की और पर है।इसके अलावा शहर को नया लुक देने के लिए खूबसूरत पेंटिग की मदद ली जा रही है। इस योजना के तहत शहर के महत्वपूर्ण स्थलों पर पेंटिग बनाई जा रही है।देवभूमि ऋषिकेश में जल्द ही दीवारें आपको बोलती नजर आएंगी। शहर के महत्वपूर्ण स्थानों की दीवारें एक नई कहानी और अपील करती नजर आयेंगी। पेंटिंग में कई विविधताएं होगी जिसमें हर पेंटिंग में उत्तराखंड की संस्कृति के रंग दिखाई देंगे।


टिप्पणियाँ