विस अध्यक्ष ने की आस्था पथ के पुनरोद्धार और बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों की समीक्षा



सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ प्रेमचंद अग्रवाल की बैठक 

एसके विरमानी /  ऋषिकेश 23 दिसंबर। ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत सिंचाई विभाग द्वारा प्रस्तावित योजनाओं एवं निर्माणाधीन कार्यों की समीक्षा के संबंध में आज उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष  प्रेमचंद अग्रवाल ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों के संग बैठक की।इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने 1157.65 लाख की लागत से आस्था पथ पर चल रहे पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों की समीक्षा की एवं सिंचाई विभाग द्वारा नाबार्ड को प्रस्तावित 27 करोड़ की योजना के संबंध में चर्चा की। 

इस अवसर पर विधानसभाध्यक्ष ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों से ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत कुंभ निधी से 1157.65 लाख की लागत से आस्था पथ का पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों के बारे में जानकारी ली।इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कार्य की गुणवत्ता एवं तय समय सीमा के अंतर्गत इसे पूरा करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने क्षेत्र के विकास के लिए विस्तृत कार्ययोजना बनाने की बात अधिकारियों से कही।श्री अग्रवाल ने रायवाला, हरिपुर कला, ठाकुरपुर, चक जोगी, गौहरीमाफी सहित अन्य क्षेत्रों में सिंचाई नहरें एवं बाढ़ योजना के कार्य के लिए कार्य योजना बनाने की बात कही। श्री अग्रवाल ने कहा कि आने वाली बरसात से पहले कार्य योजना बनाकर नहरों की मरम्मत एवं बाढ़ सुरक्षा दीवार का कार्य प्रभावित क्षेत्र में प्रारंभ किए जाएं।

इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता डीके सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष के पूछने पर जानकारी दी कि ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत नाबार्ड मद में 27 करोड़ रुपये की योजना प्रस्तावित है जिसमें 8 करोड रुपये की लागत से रायवाला क्षेत्र में सॉन्ग नदी के दाएं तट पर स्थित ग्राम गौहरीमाफी में बाढ़ योजना का कार्य, लगभग 9 करोड रुपए की लागत से साहबनगर में बाढ़ सुरक्षा का कार्य, लगभग 2 करोड 60 लाख रुपए की लागत से रायवाला नहर का पुनरुद्धार एवं मरमत्त निर्माण कार्य, लगभग एक करोड़ 32 लाख रुपए की लागत से गौहरीमाफी नहर पुनरुद्धार एवं मरम्मत निर्माण कार्य, लगभग 94 लाख रुपए की लागत से हरिपुर नहर का पुनरुद्धार व मरम्मत एवं 5 करोड़ 70 लाख रुपए की लागत से लक्कड़ घाट सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट से ट्रीटमेंट के उपरांत निकले पानी से लक्कड़ घाट क्षेत्र हेतु सिंचाई नहर की योजना का कार्य प्रस्तावित है।जिस पर नाबार्ड के द्वारा धनराशि स्वीकृत होने के तत्पश्चात कार्य प्रारंभ होगा।

इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता आरके तिवारी, अधिशासी अभियंता डीके सिंह, सहायक अभियंता अनुभव नौटियाल, अपर सहायक अभियंता आशीष बिष्ट, अपर सहायक अभियंता कुलदीप सिंह मौजूद थे।

टिप्पणियां