शिक्षिका बरखा और साक्षी ने पेश की नई मिसाल



रामकृष्ण शीला देवी वेलफेयर ट्रस्ट ने किया दोनों शिक्षिकाओं का सम्मान 

हमारेसंवाददाता /बुलंदशहर। अक्सर दूरदराज के स्कूलों में शिक्षकों का अनुपस्थित रहना तथा शिक्षा की गुणवत्ता निम्न स्तर का पाया जाता है, परंतु शिकारपुर क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय दरवेशपुर की शिक्षिकाओं बरखा व साक्षी ने अपनी मेहनत और लगन से एक मिसाल कायम की है। बेसिक शिक्षा में हो रहे बदलाव के क्रम में ए आर पी शिकारपुर डॉ मनमोहन रोहिला ने आज सपोर्टिव सुपरविजन हेतु प्राथमिक विद्यालय दरवेशपुर का दौरा किया। 

उन्होंने सरकार के द्वारा चलाए जा रहे महत्वपूर्ण योजना मिशन प्रेरणा के संबंध में जानकारी दी ।उन्होंने बताया कि विद्यालय की दोनों अध्यापिकाओं ने छोटे-छोटे प्रयासों से विद्यालय के शैक्षिक वातावरण में काफी बदलाव किए हैं जैसे प्रिंट रिच कक्षा कक्ष,शिक्षण में नवीनता एवं रोचकता लाने हेतु आकर्षक टीएलएम का प्रयोग आदि। ग्राम प्रधान विवेक कुमार तथा अन्य ग्राम वासियों ने भी इनकी तारीफ की। इंचार्ज प्रधानाध्यापिका बरखा रानी ने बताया कि एआरपी सर ने सदैव हमारा उत्साह वर्धन किया है जिस कारण हम यह कार्य कर सके संकुल शिक्षिका साक्षी ने बताया कि एआरपी सर सदैव एक कुशल मार्गदर्शक की भूमिका निभाते रहे हैं और उनके मार्गदर्शन में हम विद्यालय को और बेहतर करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। इस अवसर पर एआरपी 

 शिकारपुर में  दोनों अध्यापकों को उनके मेहनत व लगन के लिए राम कृष्ण शीला देवी वेलफेयर ट्रस्ट की ओर से प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

टिप्पणियां