नित्यानंद स्वामी का प्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान : प्रेमचंद अग्रवाल



पूर्व मुख्यमंत्री स्वामी को 92 वीं जयंती पर श्रद्धांजलि

विधानसभा अध्यक्ष ने जरूरतमंदों को राशन किट बांटी 

एसके विरमानी / ऋषिकेश 27 दिसंबर। श्री नित्यानंद स्वामी जन सेवा समिति के तत्वाधान में आज विधानसभा अध्यक्ष के बैराज स्थित कैंप कार्यालय में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री श्री नित्यानंद स्वामी की 92वीं जयंती पर एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित किया गया।इस अवसर पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद अग्रवाल ने स्वामी जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष द्वारा 92 जरूरतमंद लोगों को राशन किट भी वितरित की गई

इस अवसर पर अनेक महानुभावों ने स्वर्गीय नित्यानंद स्वामी को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए एवं उनका स्मरण किया। मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित हुए विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि स्वामी जी ने इस प्रदेश के विकास के लिए अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया l उनके विचार आज भी प्रदेश के विकास के लिए प्रसांगिक है l श्री अग्रवाल ने पूर्व मुख्यमंत्री के साथ बिताए गए दिनों को याद करते हुए कहा है कि स्वर्गीय स्वामी का उद्देश्य प्रदेश का विकास करना था।उन्होंने कहा है कि स्वामी जी ने अपने जीवन काल मे उपेक्षित, वंचित समाज को आगे लाकर मुख्यधारा में जोड़ने का कार्य किया।



विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री नित्यानन्द स्वामी ने राज्य की शुरूआती बुनियाद रखी व तेजगति से जो निर्णय लिए वो मील के पत्थर हैं जिसके लिए उन्हें हमेश याद किया जाता रहेगा। श्री स्वामी के कार्यकाल में महत्वपूर्ण निर्णयों के कारण उत्तराखंड में वित प्रबंधन से लेकर औद्योगिक विकास तथा शिक्षा एवं स्वास्थ्य से लेकर कानून व्यवस्था समेत सभी क्षेत्रों में राज्य का भरपूर विकास हुआ है।

इस अवसर पर समिति की उपाध्यक्ष व स्वामी जी की पुत्री ज्योत्सना शर्मा ने कहा कि उनके पिता सूझबूझ और दूरदर्शिता, निश्‍चल व्यवहार व मधुर भाषी प्रतिभा के धनी थे। यही कारण था कि नवोदित उत्तरांचल राज्य के गठन के बाद उसकी बागडोर श्री स्वामी जी के हाथों में सौंपी गई थी।उन्होंने कहा कि स्वामी जी के प्रति सच्ची श्रद्वांजलि यही होगी जब हम उनके बताये गए रास्ते पर बढते हुए उनके द्वारा लिए गए निर्णयों को साकार करने की दिशा में आगे बढें।

इस अवसर पर श्री नित्यानंद स्वामी जन सेवा समिति के अध्यक्ष आरके बख्शी ने कहा कि स्वामी जी एक धैर्यवान, ईमानदार, स्वच्छ छवि वाले, लोकप्रिय व जनसेवा से जुडे़ नेता थे। वह सदैव निजहित के अपेक्षा सर्वहित को प्राथमिकता देते थे।उनमें सभी को साथ लेकर चलने की क्षमता थी।उन्होंने कम अंतराल में प्रदेश के लिए जो कार्य किए, उसके लिए हम सदा उनके ऋणी रहेंगे

इस अवसर पर केपी सिंह, गीतिका शर्मा, पुनिया बक्शी, सरदार गुरप्रीत सिंह, कीर्तिमान चतुर्वेदी, जसलीन सेठी, नितिका शर्मा, रितिका सिंह, वैभव मित्तल, मुकुल सजवान, खुशबू शर्मा, डॉ राहुल, अभय कुमार, स्थानीय पार्षद मनीष मनवाल, सिमरजीत सहित अन्य लोग उपस्थित थे।कार्यक्रम का संचालन युवा संगठन अध्यक्ष विनायक शर्मा स्वामी ने किया।

टिप्पणियां