बढ़ती महंगाई के विरोध में महिला कांग्रेस ने थाली बजाकर किया प्रदर्शन

भारतनमन / देहरादून। महानगर महिला कांग्रेस द्वारा आज बिजली, पानी, रसोई गैंस, पेट्रोल-डीजल, टमाटर सहित सब्जियों,एवं अनाजों के बढ़ते दामों तथा रोज-रोज बढती मंहगाई को लेकर गांधी पार्क में महानगर महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती कमलेश रमन के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन किया गया।

इस अवसर पर महानगर महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती रमन ने कहा कि भाजपा के शासन में मंहगाई अपने चरम पर है तथा आम आदमी का जीना दूभर हो चुका है। बिजली, पानी एवं अनाजों के दाम बेतहाषा बढते जा रहे हैं तथा भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकारें मंहगाई पर काबू पाने में असफल साबित हुई हैं। 100 दिन में मंहगाई कम करने का वायदा करने वाली मोदी सरकार ने मंहगाई से देष की जनता का बुरा हाल कर दिया। बढ़ती मंहगाई के विरोध में कांग्रेस पार्टी आम जनता के साथ खडी होकर सरकार की नीतियों का विरोध करती है। उन्होंने कहा कि 2014 में 400/- का रसोई गैस सिलेण्डर 714/- पार कर गया है, पेट्रोल 82 रूपये तथा डीजल 75 रूपये से उपर पहुंच गया। भा0ज0पा0 सरकार ने उत्पाद शुल्क में 9 गुना की वृद्धि की है जिसका भार सीधा आम उपभोक्ता की जेब पर पडा है और जिसकी मार हमारी रसोई तक सीधी पहुंची है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी जी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा सरकार बनने पर मंहगाई कम करने, दो करोड़ बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने का वायदा एक जुमला साबित हुआ।



श्रीमती रमन ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण लोगों के रोजगार ठप्प हो चुके हैं तथा पहले से मंहगाई की मार झेल रहा आम आदमी अब पेट्रोलियम पदार्थों (डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस, अनाज) के दामों में लगातार हो रही वृद्धि से जरूरत की चीजों के दामों में कई गुना वृद्धि के कारण आम जनता पीड़ित है। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि के कारण खाद्य्य पदार्थों सहित सभी चीजों के दामों में स्वाभाविक रूप से वृद्धि होनी निष्चित है। विषेषकर खाद्य्य पदार्थों की बढ़ती कीमतों के कारण आम आदमी को दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है तथा मंहगाई का बोझ आम आदमी के जीने की राह और कठिन बना रहा है।

विरोध प्रदर्शन में  श्रीमती चन्द्रकला नेगी, संगीता गुप्ता, विमला मनहास, देविका रानी, मीना रावत, गायत्री, सुषमा, सरोज शर्मा, सरोज सैनी, ममता वर्मा, अनुराधा, पायल बहल, मधु शर्मा, अमृता कौशल, आशा पयाल, रूबिना चैधरी, ममता शाह, निर्मला देवी, कृष्णा देवी, भागेष्वरी, ममता बसनेत, कान्ता क्षेत्री, सुशीला शर्मा आदि शामिल रही। 

टिप्पणियां