विस अध्यक्ष ने कुंभ निधि से हो रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा की



निर्माण कार्यों में गुणवत्ता से समझौता नहीं, तय समय सीमा में पूरे हों

एसके विरमानी / ऋषिकेश 18 जनवरी l गंगा नदी में कुम्भ निधि से सिंचाई विभाग के द्वारा 11 करोड़ 57 लाख 65 हजार की लागत से आस्था पथ पर पुनरुद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा के निर्माण कार्यों को लेकर आज विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेम चंद अग्रवाल ने बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर निर्माणाधीन संस्था के साथ कार्य की समीक्षा बैठक की l

      अवगत करा दें कि विधानसभा अध्यक्ष द्वारा रविवार सांय को आस्था पथ पर निर्माण कार्यों का औचक निरीक्षण किया गया, जिसके पश्चात उन्होंने आज सिंचाई विभाग के अधिकारियों के संग समीक्षा बैठक की। इस  अवसर पर श्री अग्रवाल ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहां कि कार्य की गुणवत्ता एवं तय समय सीमा के अंतर्गत कार्य को पूर्ण प्राथमिकता मे होना चाहिए ।

     बैठक में श्री अग्रवाल ने कहा है कि जानकी घाट, सुमनी घाट, साईं घाट, और बहात्तर सीढ़ी घाट के पास जो भी सुरक्षात्मक कार्य हो रहे हैं, वह व्यवस्थित हो ताकि श्रद्धालुओं को स्नान एवं आचमन करने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो ।

   श्री अग्रवाल ने कहा है कि कुंभ योजना के अंतर्गत संचालित होने वाले कार्य निश्चित रूप से महाकुंभ प्रारंभ होने से पहले ही समाप्त हो जाने चाहिए थे परंतु कार्यदायी संस्था की हीलाहवाली  के कारण यह कार्य अभी भी समाप्त नहीं हुए जो चिंताजनक   है । 

     उन्होंने कहा है कि कार्य की गुणवत्ता को प्राथमिकता से लिया जाए साथ ही कार्य को इस अनुरूप किया जाए ताकि श्रद्धालुओं को विभिन्न पर्वों के दौरान घाटों पर दर्शन एवं स्नान करने में परेशानी ना हो।उन्होंने कहा कि गंगा किनारे के सुरक्षा दीवार के लिए लगाए जाने वाले ब्लॉकों को व्यवस्थित रूप से निर्मित किया जाए ।

     आपको यह भी ज्ञात करवा दें कि विधानसभा अध्यक्ष ने विगत दिनों आस्था पथ के सुमानी घाट पर निर्माण कार्यों के औचक निरीक्षण के दौरान निर्माण कार्य में मानकों की अनदेखी होने पर कार्य को रोकने के निर्देश दिए थे साथ ही विभाग द्वारा बरती जा रही लापरवाही के लिए जमकर अधिकारियों को फटकार भी लगायी थी। श्री अग्रवाल ने उस दौरान मानकों की अनदेखी होने पर कार्य को रुकवा कर एवं पानी में लगाए हुए ब्लॉकों को तुडवाकर पुनः कार्य प्रारंभ कराया था।

      इस अवसर पर सिंचाई विभाग के सहायक अभियंता अनुभव नौटियाल, कनिष्ठ अभियन्ता आशीष बिष्ट सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने दिए साप्ताहिक बंदी का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश

रेंज प्रभारियों की तरह यातायात निदेशक को दिए गए अधिकार

उत्तराखंड में टूटे अब तक के सारे रिकार्ड, कोरोना के 4807 नये केस, दिन में दो बजते ही बाजार में पसरा सन्नाटा