उर्जा क्षेत्र के विकास के साथ ही देश - प्रदेश की समृद्धि को टीएचडीसी कृतसंकल्प : सक्सेना


टीएचडीसी लिमिटेड कोटेश्वर परियोजना में सादगी से मनाया गया गणतंत्र दिवस

महाप्रबंधक परियोजना ने तिरंगा फहरा कर ली सलामी

भारतनमन / देहरादून। टीएचडीसी लिमिटेड कोटेश्वर परियोजना में 72 वे गणतंत्र दिवस को कोविड-19 महामारी को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देशानुसार सादगीपूर्ण और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाया गया। महाप्रबंधक परियोजना यूके सक्सेना ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और सलामी ली।

इस अवसर पर महाप्रबंधक श्री सक्सेना ने कहा कि इस पावन पर्व पर वीर सेनानियों के साथ ही राजनीतिज्ञों, विधि वेत्ताओं, समाज सेवकों और बुद्धिजीवियों याद कर नमन करें जिन्होंने हमें आजादी दिलाने के साथ ही भारत का संविधान बनाने में अहम भूमिका निभाई। इसलिए हम सबका नैतिक दायित्व है कि इन आजादी के वीरों के सपनों को साकार करते हुए हम अपना कार्य संकल्प लेकर ईमानदारी से करते रहें। यही उन महान सपूतों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

उन्होंने कहा कि टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड इस बात के लिए कृतसंकल्प है कि उर्जा क्षेत्र के विकास के साथ ही प्रदेश और देश को सामाजिक, आर्थिक समृद्धि के रास्ते पर आगे बढाना है। इसी दिशा में कोटेश्वर विद्युत परियोजना अपना योगदान निरन्तर दे रही है।

इस अवसर पर खेल एवं सांस्कृतिक परिसर नवरंग हाॅल में सांस्कृतिक कार्यक्रमों में मनमोहक देशभक्ति गीतों व नाटक के माध्यम से सामाजिक बुराइयों पर प्रहार किया गया।

इस अवसर पर उप महाप्रबंधक (कार्मिक एवं प्रशासन ) नेल्सन लकड़ा ने कहा कि महाप्रबंधक परियोजना का मार्गदर्शन कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सराहनीय रहा और सभी सहयोगी विभागाध्यक्षों एवं कर्मचारियों के साथ ही सीआईएसएफ के जवानों को सफल बनाने के लिए धन्यवाद दिया। 

कार्यक्रम में वरिष्ठ अधिकारियों में एसके राय अपर महाप्रबंधक, एके घिल्डियाल अपर महाप्रबंधक, डॉ जी श्रीनिवासन मुख्य चिकित्सा अधिकारी, बीके सिन्हा उप महाप्रबंधक (कार्मिक एवं प्रशासन ), जेपी गोस्वामी सहायक कमांडेंट सीआईएसएफ के अलावा कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन गिरीश उनियाल उप प्रबंधक (विधि) ने किया।

टिप्पणियां