सामाजिक भेदभाव और कुरीतियों को मिटाने में संत रविदास का अतुलनीय योगदान :अनिता ममगाई



श्रद्धा और उल्लास से मनाई गई संत रविदास जयंती 

एसके विरमानी / ऋषिकेश। देशभर के साथ देवभूमि ऋषिकेश में भी संत रविदास जयंती श्रद्वा और उल्लास के साथ मनाई गई।अंबेडकर नगर में इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने कहा कि संत रविदास ने सामाजिक एवं आध्यात्मिक संघर्ष किया था। उन्होंने एक सभ्य समाज की न सिर्फ कल्पना की, बल्कि उसे मूर्त रूप देने में भी अहम भूमिका निभाई। छूआछूत को मिटाने के लिए संत रविदास द्वारा किए गए कार्यों पर महापौर ने प्रकाश डाला।अपने सम्बोधन में महापौर ने कहा कि महापुरुषों के जीवन से हमें भाईचारा कायम रखने की सीख मिलती है। संत रविदास ने काम को महत्व दिया और गंगा स्नान के लिए कहा कि मन चंगा तो कठौती में गंगा। संत रविदास के व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए महापौर ने कहा क कि संत रविदास ने समाज में भेदभाव व कुरीति को मिटाने का कार्य किया। हम सब को उनके मार्ग का अनुसरण करना चाहिए।



इससे पूर्व भारतीय जनता युवा मोर्चें के तत्वावधान मेंं अंबेडकर नगर में नारी स्वाभिमान स्वाभिमान ट्रस्ट की अध्यक्ष मुकेश चौधरी की अध्यक्षता व राकेश पारक्षा एवं प्रकांंत कुुुमार के संयुक्त संचालन में आयोजित कार्यक्रम का महापौरअनिता ममगाई, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार सिंघल व सुरेंद्र मोगा ने संयुक्त रूप से शुुभारंभ कराया।

इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के पूर्व मंडल अध्यक्ष चेतन शर्मा, राजपाल ठाकुर, विवेक गोस्वामी, सतपाल दानव, भगवत प्रसाद मकवाना, मनीष अग्रवाल, पंकज शर्मा, जमुना देवी, प्रवेश कुमार, नेहा नेगी, राज कुमार ,रणवीर भारती, संजय बाल्मीकि, अशोक धींगरा, महेंद्र सिंह ,कमल कुमार, राकेश कुमार, सत्येंद्र कुमार ,धर्मेंद्र भंडारी, राजीव कुमार, अशोक कुमार, नरेश खेरवाल, सुभाष बाल्मीकि, अक्षय खेरवाल ,कुसुम देवी ,विश्वंभरी देवी, संतोष देवी ,सोना देवी, जमुना देवी, कमला देवी, मंगला देवी, मिथलेश देवी, सावित्री देवी, कमलेश देवी आदि उपस्थित थे।

टिप्पणियां