अधिकारी स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय बनाकर कार्य करें : प्रेमचंद अग्रवाल

गैरसैंण के चरणबद्व विकास की रूपरेखा तय करने को परिषद की बैठक 

भारतनमन / देहरादून 24 फरवरी।गैरसेंण के ग्रीष्मकालीन राजधानी बनने के बाद गैरसेंण के चरणबद्व विकास की रूपरेखा तय करने के उद्वेश्य से उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेम चंद अग्रवाल की अध्यक्षता में आज विधानसभा भवन, देहरादून में गैरसेंण विकास परिषद की बैठक आहूत की गई। बैठक में गैरसेंण एवं द्वारहाट विधानसभा क्षेत्र के जनप्रतिनिधि एवं विभिन्न विभागों के अधिकारीगण सहित शासन स्तर के अधिकारी मौजूद रहे।

      बोर्ड बैठक के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह स्थानीय जनप्रतिनिधियों के संग सामंजस्य बनाकर निर्माण कार्य करें।श्री अग्रवाल ने कहा कि सभी निर्माण कार्यों को गुणवत्ता एवं मानकों के आधार पर तय समय सीमा पर पूर्ण करें।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों को बैठक के दौरान पूर्ण तैयारी के साथ प्रतिभाग करने को कहा।वही श्री अग्रवाल ने बैठक में कुछ विभागों के अधिकारियों की अनुपस्थिति पर नाराजगी भी व्यक्त की।



       इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने अधिकारियों से कहा कि 5लाख की धनराशि से अधिक के कार्य का विधिवत शिलान्यास किया जाए जिनमें स्थानीय जनप्रतिनिधियों की भी सहभागिता हो।जिससे क्षेत्र में लोगों को गैरसेंण विकास परिषद द्वारा किये जा रहे विकास कार्यों की जानकारी मिल सके।

      बैठक के उपरांत पत्रकारों से बातचीत के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि गैरसेंण विकास परिषद के माध्यम से गैरसेंण एवं चैखुटिया विकास खण्ड में प्रारम्भ से 71 कार्यो की योजना स्वीकृत हुई थी। जिसमें से वर्तमान में 64 कार्य पूर्ण हो चुके हैं एवं 07 कार्य प्रगति पर है। श्री अग्रवाल ने बताया कि 17 फरवरी, 2020 को बोर्ड की बैठक में पूर्ण हुए 32 कार्यो का प्रस्तुतिकरण किया गया था, वहीं आज बोर्ड बैठक में 32 पूर्ण हुए कार्यो का प्रस्तुतिकरण किया गया।

     आज की बोर्ड बैठक में जो 07 कार्य प्रगति पर हैं उन कार्यो के लिए द्वितीय किस्त अवमुक्त की गई है, जिनमें गैरसैंण में स्टेडियम निर्माण, आदिबद्री खेल मैदान में चेजिंग रूम एवं टाॅयलेट निर्माण, ग्राम पंचायत सिराणा में पुलिया निर्माण, ग्राम सभा मालकोट में बाढ सुरक्षा कार्य, ग्राम सभा तड़गताल में रामलीला मंच का निर्माण, चैखुटिया में बाखली नहर का जीर्णोद्वार एवं छिताड़ नहर का जीर्णाेद्वार मुख्य रूप से हैं।  विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि 17 फरवरी, 2020 की बोर्ड बैठक में विकास खण्ड गैरसैंण में लगभग 03 करोड़ 44 लाख रूपये की लागत से 30 योजनाए अनुमोदित की गई थी। वहीं विकास खण्ड चैखुटिया के लिए लगभग 02 करोड़ 28 लाख रूपये की लागत से 45 योजनाए अनुमोदित की गई थी। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कहा कि पिछले वर्ष की बोर्ड बैठक में कुल 5 करोड 72 लाख रुपये की योजनाएं अनुमोदित की गई थी जिसके सापेक्ष वित्तीय वर्ष 2020-21 में 3 करोड़ रुपए की धनराशि का ही प्रावधान है।श्री अग्रवाल ने कहा कि अवशेष दो करोड़ 72 लाख की योजनाओं को वित्तीय वर्ष 2021- 22 में समायोजित किया जाएगा।

  इस अवसर पर द्वारा द्वारहाट विधायक महेश नेगी, लोक निर्माण विभाग के सचिव आरके सुधांशु, ब्लाक प्रमुख किरण बिष्ट, नगर पंचायत अध्यक्ष पुष्कर सिंह रावत, लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता मुकेश परमार, मुख्य विकास अधिकारी हंसा दत्त पांडे, अपर मुख्य अधिकारी राजेंद्र सिंह, उत्तराखंड जल संस्थान के अधीक्षण अभियंता मनीष सेमवाल, अधीक्षण अभियंता पेयजल निगम मदन पुरी, मुख्य अभियंता ग्रामीण निर्माण विभाग वाई जी पांडे, लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता जीएस पंगती सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी गण मौजूद थे।

टिप्पणियां