कैंसर के प्रति लोगों को जागरूक किया जाना बेहद जरूरी :प्रेमचंद



फाउंडेशन फार सोशल अवकेनिंग के तत्वावधान में कैंसर जागरूकता कार्यक्रम 

एसके विरमानी / ऋषिकेश 4 फरवरी।विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर सामाजिक संस्था फाउंडेशन फॉर सोशल अवकेनिंग(एफएसए) के तत्वावधान में आज वेद निकेतन, स्वर्गाश्रम में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।कार्यक्रम का शुभारंभ उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद द्वारा किया गया, इस अवसर पर यम्केश्वर विधायक ऋतु खंडूडी भी मौजूद रही।

कार्यक्रम के दौरान कैंसर मुक्त उत्तराखंड 2021, हारेगा कैंसर जीतेगा उत्तराखंड पर आधारित सेमिनार में कला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।कैंसर के प्रति जागरूकता कार्यक्रम के दौरान कई बच्चों द्वारा चित्रकला प्रतियोगिता एवं साइकिलिंग रेस में प्रतिभाग किया गया। कार्यक्रम का आयोजन स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग भारत सरकार, डायरेक्टरेट आफ हेल्थ सर्विसेज उत्तराखंड एवं नेशनल हेल्थ मिशन उत्तराखंड के सानिध्य में किया गया।इस दौरान एम्स ऋषिकेश से स्वर्गाश्रम तक साइकिल रेस का आयोजन किया गया।

विधानसभा अध्यक्ष ने इस दौरान राम मंदिर निर्माण के लिए एक करोड रुपये दान करने वाले टाट वाले बाबा शंकर दास जी महाराज को सम्मानित किया और कहा कि महाराज जी का यह समर्पण समाज के लिए प्रेरणा स्रोत का कार्य करेगा।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि दुनियाभर में तेजी से पांव पसार रहा कैंसर, वैश्विक चुनौती बन चुका है। इसके प्रति जागरूकता के लिए प्रतिवर्ष 4 फरवरी को विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है। इस साल की थीम “ मैं हूं और मैं रहूंगा “ है, जिसका मतलब हर किसी में क्षमता है कि वह कैंसर से लड़ सकता है।  

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि कैंसर जैसी भयावह बीमारी के प्रति जागरूक किया जाना अति आवश्यक है ।कैंसर के बढ़ता प्रकोप वर्तमान में मानव समाज के लिए सबसे खतरनाक एवं जानलेवा है।तंबाकू के सेवन से, शराब और सिगरेट का सेवन करना, इन्फेक्शन, मोटापा, सूरज की अल्ट्रा वायलेट किरणों और खराब लाइफस्टाइल कैंसर की प्रमुख वजहें हैं। इसके अतिरिक्त मानव की भागदौड़ वाली जिंदगी और खान-पान आदि में बरती जा रही लापरवाही भी कहीं न कहीं कैंसर जैसी बीमारियों को दावत दे रही है।

इस अवसर पर यमकेश्वर विधायक ऋतु खंडूडी ने कहा कि हर साल हजारों लोग सही समय पर इस बीमारी के लक्षण नहीं पहचानने और सही स्टेज में इलाज नहीं शुरू करने की वजह से अपनी जान गंवा देते है, इसी बात को ध्यान में रखते हुए कैंसर के प्रति लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता पड़ी। अगर सही समय पर कैंसर के लक्षणों को पहचान कर, जल्द ही इलाज शुरू कर दिया जाए तो कैंसर की बीमारी होने पर भी एक लंबा जीवन जीया जा सकता है।

इस अवसर पर परम पूज्य विजयनंद सरस्वती जी महाराज, शंकर दास महाराज, एम्स निदेशक प्रो रविकांत, एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत, संस्था के अध्यक्ष अनुराग ढोंडियाल, रमेश भट्ट, मनीष राजपूत, भरत लाल, नवनीत राजपूत, सुदामा सिंघल, बृजेश चतुर्वेदी, अभिनव दुबे सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ