देवभूमि हिमालय योग व अध्यात्म की उद्गम स्थली :सुबोध उनियाल



ऋषिकेश में गंगा तट पर सप्ताह भर का अन्तरराष्ट्रीय योग महोत्सव शुरू 

एसके विरमानी / ऋषिकेश। देवभूमि हिमालय योग व अध्यात्म की उद्गम स्थली है। योग मनुष्य के शरीर को न केवल स्वस्थ रखता है बल्कि सकारात्मक सोच का भी निर्माण करता है। विश्व शांति के लिए भी योग कारगर सिद्ध हो सकता है। उक्त विचार आज यहां अन्तरराष्ट्रीय योग महोत्सव के पहले दिन उदघाटन सत्र को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि प्रदेश के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि देवभूमि उत्तराखंड से योग का संदेश समूचे विश्व में प्रसारित हुआ है।


गढ़वाल मंडल विकास निगम के गंगा रिसोर्ट में गंगा तट पर अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव सात दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कार्यक्रम का उद्घाटन कृषि मंत्री सुबोध उनियाल,आचार्य बालकृष्ण ,जीएमवीएन के अध्यक्ष महावीर सिंह रांगड़, स्वामी नरेन्द्र गिरि द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

कार्यक्रम के उद्घाटन के बाद जीएमवीएन के अध्यक्ष द्वारा कार्यक्रम में पहुंचे अतिथियों का पुष्प गुच्छ भेंट कर सम्मानित किया गया।

मौके पर कार्यक्रम में गढ़वाल मंडल विकास निगम के प्रबंध निदेशक आशीष कुमार चौहान,गढ़वाल मंडल विकास निगम के उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार सिंघल, मुनीकीरेती नगर पालिका अध्यक्ष रोशन रतूड़ी, पंतजलि के आचार्य बालकृष्ण और बहुसंख्या में दर्शकों की उपस्थिति रही।

टिप्पणियां