उत्तराखंड की कमान अब तीरथ सिंह रावत के हाथ

उत्तराखंड के नये मुखिया तीरथ सिंह रावत 


उत्तराखंड के 10 वें मुख्यमंत्री होंगे तीरथ

@ नरेश रोहिला 

पौडी गढ़वाल से लोकसभा सदस्य तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड के नये मुख्यमंत्री होंगे। वे त्रिवेन्द्र सिंह रावत का स्थान लेंगे जिन्होंने गत दिवस आलाकमान के निर्देश पर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। आज सुबह विधानमंडल की बैठक में नये मुख्यमंत्री के रूप में तीरथ सिंह की रावत के नाम पर मुहर लग गयी। संभावना जताई जा रही है कि तीरथ सिंह 

रावत आज ही शाम को राजभवन में बतौर मुख्यमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड के 10वें मुख्यमंत्री होंगे।

कौन है तीरथ सिंह रावत 

तीरथ सिंह रावत भाजपा के पुराने कर्मठ कार्यकर्ता हैं। वे दो बार भाजपा प्रदेश में भाजपा के अध्यक्ष रहे। उत्तराखंड के पहले शिक्षा मंत्री होने का श्रेय भी तीरथ सिंह रावत को जाता है। 

56 वर्ष के तीरथ सिंह रावत का जन्म 9 अप्रैल 1964 को पौड़ी गढवाल में हुआ। छात्र जीवन से ही राजनीति में गहरी रूचि रखने वाले तीरथ सिंह ने 1983 - 88 में बतौर संघ प्रचारक कार्य किया। 1997 में वे उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सदस्य चुने गये। सन 2000 में जब उत्तराखण्ड अलग राज्य बना तो भाजपा नेतृत्व वाली राज्य की अन्तरिम सरकार में उन्हें शिक्षा मंत्री बनाया गया। 2007 उन्होंने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के रूप पार्टी का काम देखा। 2012 में तीरथ सिंह रावत चौबट्टाखाल से राज्य विधानसभा के लिए चुने गये, वे 2017 तक विधानसभा सदस्य रहे। इस बीच 2013 में उन्हें पार्टी ने फिर प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी और वे 9 फरवरी से 31 दिसम्बर तक प्रदेश अध्यक्ष रहे। 

2019 में भाजपा ने तीरथ सिंह रावत को गढवाल लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाया। इस चुनाव में तीरथ ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी मनीष खंडूरी को दो लाख से भी अधिक वोट से हराया। पूर्व मुख्यमंत्री और गढवाल से पूर्व सांसद भुवनचंद्र खंडूरी के पुत्र मनीष खंडूरी को 2019 में कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी बनाया लेकिन बाजी तीरथ सिंह रावत ने मारी।अब तीरथ सिंह रावत बतौर मुख्यमंत्री अपनी नई पारी शुरू करने जा रहे हैं।

टिप्पणियां