विधानसभा अध्यक्ष ने किया महिलाओं का सम्मान

महिला दिवस पर विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय में भव्य कार्यक्रम 

एसके विरमानी / ऋषिकेश 8 मार्च। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आज विधानसभा अध्यक्ष के बैराज स्थित कैंप कार्यालय में एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने विभिन्न क्षेत्रों में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रही महिलाओं को सम्मानित किया।

            विधानसभा अध्यक्ष ने स्वास्थ्य, महिलाओं के सशक्तिकरण एवं पर्यावरण के क्षेत्र में कार्य कर रही महिलाओं को पुष्प गुच्छ भेंट कर एवं शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया।इस अवसर पर आस संस्था, गुमानीवाला की सचिव सुश्री हेमलता जोकि विगत 20 वर्षों से क्षय रोग ग्रस्त बालिकाओं-बालकों के स्वास्थ्य उपचार व पोषण मैं कार्य कर रही है एवं महिला हिंसा का महिला शक्ति से जुड़े सभी विषयों पर निरंतर कार्य कर रही है।श्रीमती कविता ध्यानी एवं आशा नेगी जिन्होंने महिलाओं के 400 स्वयं सहायता समूह बनाकर महिला स्वावलंबन स्वरोजगार के क्षेत्र में कार्य कर रही हैं एवं श्रीमती मधु असवाल जो कि गंगा संरक्षण, पर्यावरण प्रौढ़ शिक्षा पर स्वयंसेवी संस्था के माध्यम से कार्य कर रही हैं,इन सभी को प्रतीक चिन्ह भेंट कर विधानसभा अध्यक्ष ने सम्मानित किया।



        इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार महिला सशक्तीकरण के लिए कृतसंकल्प है। श्री अग्रवाल ने कहा कि हाल ही में सरकार ने महिलाओं को पति की पैतृक संपत्ति में सहखातेदार का अधिकार दिया है। महिला स्वयं सहायता समूहों को पांच लाख रुपये तक का ऋण बिना ब्याज के दे रहे हैं। महिलाओं के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री जी ने घसियारी योजना चलायी है।उन्होंने कहा कि उत्‍तराखंड तीलू रौतेली, रामी बौराणी, गौरा देवी का प्रदेश है।

         विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश और समाज में महिलाओं के उत्थान के बिना समग्र विकास की कल्पना नहीं की जा सकती। मातृशक्ति आज विभिन्न क्षेत्रों में एवं विभिन्न रूपों में देश का नेतृत्व कर रही है।आज विभिन्न क्षेत्रों में महिलाएं कीर्तिमान स्थापित कर रही है आजादी के आंदोलन से लेकर उत्तराखंड राज्य के आंदोलन में इस प्रदेश की महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।



          इस अवसर पर दिव्य सेवा प्रेम मिशन के संस्थापक आशीष गौतम ने कहा कि इतिहास में अनेकों उदाहरण मिलते हैं जहां महिलाओं ने अपने व्यक्तित्व व कृतित्व से उच्चतम आयाम स्थापित किए हैं। वर्तमान समय में भी महिलाएं अपने विशिष्ट कार्यों से समाज को राह दिखा रही हैं।

         इस अवसर पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की प्रदेश संयोजिका सरोज डिमरी, पार्षद सुंदरी कंडवाल, पूर्व पार्षद कविता शाह, महिला मोर्चा की अध्यक्ष रजनी बिष्ट, उषा जोशी, समां पवार, निर्मला उनियाल, पुनीता भंडारी, आरती दुबे, राजबाला शर्मा, पुष्पा नेगी, सिमरन रावत, बिना देवी, माधुरी गुप्ता, सीमा रानी, रीना शर्मा, ममता नेगी, प्रमिला त्रिवेदी, भावना किशोर गौड़, दुर्गा देवी, कमला नेगी, सुनीता बिष्ट, बिंदु गुप्ता, अनीता राणा, प्रमिला देवी, पूनम नेगी, लक्ष्मी गुरुंग, इंदु थपलियाल, पद्मा नैथानी सहित कई अन्य महिलाएं मौजूद थी।

टिप्पणियाँ