स्लाॅटर हाउस पर रोक के साथ ही हरिद्वार के ग्रामीण क्षेत्रों को प्राधिकरण मुक्त किया जाये : सतपाल महाराज

भारतनमन / देहरादून। प्रदेश के पर्यटन, सिंचाई एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा कि धर्मनगरी हरिद्वार देश की आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक राजधानी है। इसलिए यहां स्लॉटर हाऊस पर रोक लगाने के साथ साथ जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों को प्राधिकरण से मुक्त किया जाना अति आवश्यक है।

प्रदेश के पर्यटन, सिंचाई एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा है कि कुम्भ नगरी हरिद्वार विश्व की आस्था एवं सांस्कृतिक विरासत का एक महत्वपूर्ण केंद्र है। ऐसे पवित्र स्थान पर स्लॉटर हाऊस के निर्माण के विषय में सोचना सनातन धर्म की परम्पराओं के विरूद्ध है। इसलिए मेरा अनुरोध है कि हरिद्वार में स्लॉटर हाऊस पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जाए। 

हरिद्वार के प्रभारी मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा है कि हरिद्वार के भाजपा विधायकों ने भी स्लॉटर हाउस के विरोध में प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को एक पत्र सौंप कर इसे बंद करने की मांग की है। श्री महाराज ने कहा कि धार्मिक आस्था के केंद्र हरिद्वार में स्लॉटर हाउस के निर्माण का कोई औचित्य नहीं है। इसलिए स्थानीय भाजपा विधायकों की मांग और संत महात्माओं की आध्यात्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए इसके निर्माण पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए। इतना ही नहीं श्री सतपाल महाराज ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के विकास के एजेंडे का जनपद हरिद्वार के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रभावी क्रियान्वयन के लिए जनपद की सभी पंचायतों को प्राधिकरण से मुक्त किया जाना बेहद जरूरी है। 

टिप्पणियां