सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में हिंदी के प्रोत्साहन के लिए हिंदी की पुस्तकों का वितरण



कालेज और नेशनल मेडिकोज ऑर्गेनाइजेशन सीमा डेंटल कॉलेज ने किया कार्यक्रम 

एसके विरमानी / ऋषिकेश। सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज आवास विकास ऋषिकेश तथा नेशनल मेडिकोज ऑर्गेनाइजेशन सीमा डेंटल कॉलेज ऋषिकेश द्वारा मातृभाषा हिंदी के प्रोत्साहन के लिए हिंदी की पुस्तकों का वितरण किया गया|

कार्यक्रम का शुभारंभ डॉ हिमांशु एरन (वाइस प्रेसिडेंट NMO उत्तराखंड), डॉ अमित अग्रवाल अध्यक्ष NMOSDCH) डॉक्टर ज्योत्सना सेठ (सचिव) डॉक्टर योगेश्वरी (संयुक्त सचिव) डॉ विवेक सिंह एवं विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री राजेंद्र प्रसाद पांडेय ने दीप प्रज्ज्वलन एवं पुष्पार्चन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया|



इससे पूर्व विद्यालय में सीमा डेंटल कॉलेज के डॉक्टर्स तथा उनकी टीम द्वारा 25 फरवरी से छात्र-छात्राओं का दंत परीक्षण कर आवश्यक सुझाव दिए गए|

डॉक्टर ऐरन ने कहा की हिंदी हमारी मातृभाषा है, इसलिए हमें हिंदी को नहीं भूलना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें सदैव सोने से पूर्व, मीठा खाने के बाद दांतो की सफाई अवश्य करनी चाहिए क्योंकि दांत हमारे चेहरे के आभूषण हैं|

विद्यालय के प्रधानाचार्य राजेंद्र प्रसाद पांडेय ने कहा कि यदि हमारे दांत स्वस्थ होंगे तो हम अपने जीवन में भोजन के स्वाद के अलावा शारीरिक रूप से भी स्वस्थ रहेंगे|

कार्यक्रम का संचालन रामगोपाल रतूड़ी ने किया| इस अवसर पर सीमा डेंटल कॉलेज के इंटर्न समीक्षा, तान्या, तन्वी, समीर, विद्यालय के आचार्य सतीश चौहान, सुनील बलूनी, अनिल भंडारी कथा छात्र-छात्राएं आदि उपस्थित रहे। 

टिप्पणियां