एमआईटी ढालवाला में महिला सशक्तिकरण सप्ताह का शुभारम्भ



महिलाएं अपने घर को मजबूत बनाएं: कुसुम कंडवाल 

एमआईटी सचिव ने महिलाओं को शक्ति का रूप बताया 

एसके विरमानी /ऋषिकेश। मार्ड़न इंस्टीटयूट् आॅफ टैक्नोलोजी ढ़ालवाला में विज्ञान विभाग व देवभूमि ऋशिकेश कराटे ट्रेंनिग सेंटर के संयुक्त तत्वाधान में महिला सशक्तिकरण सप्ताह का शुभारम्भ हुआ। कार्यक्रम का उदघाटन मुख्य अतिथि श्रीमति कुसुम कंडवाल (प्रदेश उपाध्यक्ष, भाजपा), प्रमोद कुमार शर्मा (पार्षद,नगर निगम,ऋशिकेश) डॉ कौशल्या डंगवाल व संस्थान सचिव हर गोविंद जुयाल ने संयुक्त रूप से किया । संस्थान सचिव हर गोविंद जुयाल द्वारा अतिथियों का स्वागत पौधे सहित गमले भेंट कर किया गया। महिला सशक्तिकरण पर अपने विचार रखते हुये श्रीमति कंडवाल ने महिलाओं को अपने घर को मजबूत बनाने का आहवान किया। उन्होंने न कहा कि आज महिलाए किसी भी काम में पुरुषों से पीछे नहीं हैं तथा हर क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रही हैं। संस्थान सचिव हर गोविंद जुयाल ने महिलाओं को शक्ति का रुप बताया और कहा कि नारियाॅं किसी भी क्षेत्र में अपना अहम रोल निभा सकती हैं और निभा भी रही हैं। विज्ञान विभाग की अध्यक्षा डाॅ0 कौशल्या डंगवाल ने सप्ताह भर चलने वाले इस कार्यक्रम के बारें में विस्तार से जानकारी दी। इस कार्यक्रम में अपने क्षेत्र के जाने-माने वकील, डाॅक्टर, साइबर एक्सपर्ट, पुलिस प्रशासन आदि को अलग-अलग दिनों में महिलाओं से संबंधित जानकारी देने के लिये आमंत्रित किया गया है।



 अन्तर्राष्ट्रीय कराटे एक्सपर्ट मिस शिवानी गुप्ता का स्वागत करते हुये संस्था सचिव ने उन्हे ऋशिकेश का गौरव बताया और कहा कि मिस शिवानी ने शहर के छात्र-छात्राओं को मार्शल आर्ट सिखाकर मजबूत बनाने का काम किया है। महिला सशक्तिकरण सप्ताह के पहले दिन मिस शिवानी ने छात्राओं को कराटे के बारे में विस्तार से जानकारी दी व उन्हे कराटे के नियमों को ध्यान में रखने की सलाह दी। महिला सशक्तिकरण सप्ताह में दो सौ से अधिक छात्राओं ने कराटे हेतु अपना रजिस्ट्रेशन किया। इस कार्यक्रम में डाॅ0 सुनील कुमार सिंह, डाॅ0 माधुरी कौषिश लिली, डाॅ0 निखिल कीर्तिपाल, डाॅ0 कमलेश कुमार भटट, आषीश गुप्ता, प्रदीप पोखरियाल, डाॅ0 एल0एम0 जोशी, अजय तोमर, अंशु यादव, हेमंत कुमार अग्रहारी, डाॅ0 निधी श्रीवास्तव, डाॅ0 अनिता पाण्डे, पूजा पंवार रमोला, सुमित कुमार,शुभम मिंगवाल व प्रकांत कुमार आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन बी0एड़ विभाग की छात्रा आशिमा, ओर अनुराधा ने किया।

टिप्पणियाँ