गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करने की प्रथम वर्षगांठ पर विस अध्यक्ष ने पुष्पगुच्छ देकर मुख्यमंत्री का आभार जताया







गैरसैंण में आधारभूत सुविधाओं को जुटाने के लिए मुख्यमंत्री प्रयासरत :प्रेमचंद 

भारतनमन / भराड़ीसैंण 4 मार्च l भराड़ीसैंण (गैरसैंण) को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करने की प्रथम वर्षगांठ पर आज विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेम चंद अग्रवाल ने मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को पुष्पगुच्छ भेंट कर आभार व्यक्त करते हुए शुभकामनाएं दी।

         उन्होंने कहा है कि राज्य आंदोलनकारियों का सपना था कि उत्तराखंड राज्य का अलग निर्माण हो और राज्य की राजधानी गैरसैंण हो।उन्होंने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री  की पहल पर विगत वर्ष गैरसेंण को विधिवत ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किया गया था। 

      श्री अग्रवाल ने कहा कि ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित होने के बाद मुख्यमंत्री  गैरसेंण में आधारभूत सुविधाएं जुटाने के लिए प्रयासरत है एवं कार्य योजना तैयार कर गैरसेंण में तमाम सुविधाओं को विकसित करने के दिशा में अग्रसर है।श्री अग्रवाल ने कहा है कि यह सुखद एहसास है कि आज हम ग्रीष्मकालीन राजधानी की प्रथम वर्षगांठ गैरसेंण मे ही मना रहे हैं।

टिप्पणियाँ