उत्तराखंड में कोरोना का विस्फोट, 1233 नये मरीज

राजधानी देहरादून में सबसे अधिक 589 और हरिद्वार में 254 केस आये

भारतनमन / देहरादून। राजधानी देहरादून सहित समूचे प्रदेश में दिन प्रतिदिन कोविड-19 का संक्रमण बढता जा रहा है। शनिवार को फिर उत्तराखंड में कोरोना का विस्फोट हुआ। पूरे प्रदेश में 1233 पाजीटिव मरीजों का बडा आंकडा आया। इनमें सबसे ज्यादा 589 देहरादून और 254 पाजीटिव केस हरिद्वार जनपद में आये। पिछले 24 घंटे में प्रदेशभर में तीन लोगों की मौत हुई।

जनपदवार भी देखें - 


शिक्षण संस्थानों में आने वालों की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट जरूरी 
जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव 

इस बीच जिलाधिकारी देहरादून डॉ आशीष कुमार ने कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत शिक्षण संस्थानों में छात्र-छात्राओं, प्रशिक्षुओं को शिक्षण प्रशिक्षण के लिए बुलाये जाने को लेकर आवश्यक निर्देश दिये हैं। 

जिलाधिकारी ने कहा कि कतिपय शिक्षण संस्थानों द्वारा छात्र-छात्राओं और प्रशिक्षुओं को शिक्षण, प्रशिक्षण के लिए बुलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले छात्रों को आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट के बगैर शिक्षण संस्थानों और आवासीय परिसरों में प्रवेश दिया जाता है तो कोरोना संक्रमण बढ सकता है। उन्होंने शिक्षण संस्थानों को निर्देश दिये कि उक्त आशंका के चलते छात्र छात्राओं और प्रशिक्षुओं / उन्हें लेने और छोडने आने वालों की आगमन से 72 घंटे पूर्व की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता सुनिश्चित कराये।

नेहरू कालोनी और गुमानीवाला में पाबंदी हटी

 जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने देहरादून के 114 ए नेहरू कालोनी और ऋषिकेश के गुमानीवाला गांव में कोरोना पाजीटिव मरीजों के मिलने के बाद पाबंद किये गये इलाके को कंटेनमेंट जोन से मुक्त किये का आदेश दिया है। जिलाधिकारी ने पिछले दिनों इन दोनों क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया था। इस अवधि में 14 दिनों तक इन दोनों इलाकों में निगरानी की गयी और इस दौरान किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण न पाये जाने पर कंटेनमेंट जोन से मुक्त किये जाने के आदेश दिये।

टिप्पणियाँ