मेष संक्रान्ति कुंभ स्नान- 2021

अखाड़ों के संत महात्माओं ने किया हर की पैड़ी पर शाही स्नान 

दोपहर तक 8 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने गंगा में लगाई पुण्य की डुबकी 



भारतनमन / हरिद्वार। मेष संक्रान्ति पर कुंभ शाही स्नान पर विभिन्न अखाड़ों के संत महात्माओं सहित लाखों श्रद्धालुओं ने यहां गंगा में पुण्य की डुबकी लगायी। सरकारी सूत्रों ने बताया कि दोपहर 12 तक सम्पूर्ण कुम्भ मेला क्षेत्र में करीब 887545 श्रद्धालु स्नान कर चुके थे। 







इस दौरान निरंजनी अखाड़ा , आनंद अखाड़ा, जूना अखाड़ा, अग्नि अखाड़ा, आह्वान अखाड़ा, महानिर्वाणी अखाड़ा, अटल अखाड़ा  और बैरागी अखाड़ा के संतों ने क्रमवार ढंग से हर की पैड़ी स्थित ब्रह्मकुण्ड पहुंच कर शाही स्नान किया। 

मेलाधिकारी ने अफसरों के साथ कुंभ के सकुशल सम्पन्न होने के लिए पूजा-अर्चना की 


इससे पहले सुबह ही मेलाधिकारी दीपक रावत एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, महाकुम्भ मेला जनमेजय खण्डूरी ने मेष संक्रान्ति कुम्भ शाही स्नान 14 अप्रैल को हरकीपैड़ी ब्रह्मकुण्ड पहुंच कर महाकुम्भ के सकुशल सम्पन्न होने के लिये माॅ गंगा व अन्य देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना की। 

मेलाधिकारी दीपक रावत सुबह सात बजे से पहले ही मेला नियंत्रण भवन(सी0सी0आर0)अपने कार्यालय में पहुंच चुके थे। कार्यालय पहुंचकर उन्होंने अधिकारियों को महाकुम्भ के सम्बन्ध में कई दिशा-निर्देश दिये। उसके पश्चात वे शाही स्नान रूट का निरीक्षण करते हुये हरकीपैड़ी ब्रह्मकुण्ड पहुंचे, जहां उन्होंने महाकुम्भ के सकुशल सम्पन्न होने के लिये माॅ गंगा व अन्य देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना की। पूजा-अर्चना के समय श्रीगंगा महासभा के अध्यक्ष प्रदीप झा, अपर मेलाधिकारी डाॅ0 ललित नारायण मिश्र, हरवीर सिंह, सेक्टर मजिस्ट्रेट योगेश मेहरा, गंगा सभा के अन्य पदाधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। 



पूजा-अर्चना करने के पश्चात मेलाधिकारी दीपक रावत हरकीपैड़ी स्थित पुल नम्बर-1 पर पहुंचे, जहां पर उन्होंने आठ बजकर 56 मिनट पर शाही स्नान के लिये आ रहे सर्वप्रथम निरंजन पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी श्री कैलाशानन्द गिरी जी महाराज, अखाड़े के सचिव और मनसादेवी ट्रस्ट के सचिव श्रीमहंन्त रवीन्द्र पुरी जी महाराज, आनन्द अखाड़े के आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी श्री बालकानन्द गिरिजी महाराज सहित अन्य सन्तों का स्वागत पुष्प वर्षा व पुष्प माला पहनाकर किया। इसके पश्चात सन्तों के हरकीपैड़ी ब्रहृमकुण्ड पहुंचने पर पूजा-अर्चना एवं विधि-विधान से शाही स्नान का शुभारम्भ हो गया। 



स्वागत के समय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महाकुम्भ मेला जनमेजय खण्डूरी, अपर मेलाधिकारी डाॅ0 ललित नारायण मिश्र, हरवीर सिंह सहित अन्य अधिकारीगण भी मौजूद थे। मेलाधिकारी हरकीपैड़ी से ही जहां पर जैसी आवश्यकता हो रही थी, अधिकारियों को निर्देश भी देते जा रहे थे।


टिप्पणियां