झेल रहे महंगाई की मार, कैसे पाएं कोरोना से पार



विद्युत दरें बढाने का कांग्रेस महिला ब्लाक अध्यक्षों ने घरों में रहकर किया विरोध 

भाजपा सरकार बिजली - पानी की दरें बढ़ाकर लोगों के जख्मों पर नमक छिड़क रही : कमलेश रमन

भारतनमन / देहरादून 2 मई। राज्य मे बढी हुई विद्युत दरों को लेकर देहरादून महानगर महिला कांग्रेस ने कमलेश रमन के नेतृत्व में सभी ब्लाक अध्यक्ष ने 13 ब्लाकों में अपने घरों से विरोध-प्रदर्शन करते हुए बढी हुई विद्युत दरों को वापस लेने की पुरजोर तरीके से मांग की है।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत महानगर महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महानगर अध्यक्ष श्रीमती कमलेश रमन के नेतृत्व में प्रातः 11 :30 बजे से अपने घरों में प्रदर्शन के साथ उत्तराखंड सरकार से बढी हुई विद्युत दरें वापस लिये जाने की मांग की।

श्रीमती कमलेश रमन ने कहा कि पिछले एक वर्ष से पूरा देश वैश्विक महामारी कोरोना से पीडित है लोगों के रोजी रोजगार के साधन, व्यवसाय ठप्प पडे हुए हैं परन्तु भाजपा सरकारें लोगों की पीडा को दर किनार करते हुए प्रत्येक क्षेत्र में मंहगाई बढ़ाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि लोगों के पानी बिजली के दाम कम करने की बजाय भाजपा सरकार उनके दाम बढ़ा कर लोगों के घावों पर नमक छिडकने का काम कर रही है।

श्रीमती रमन ने कहा कि सरकार विद्युत उपभोक्ताओं से पहले ही मीटर चार्ज के रूप में कई वर्षों तक किराया वसूल करती है जबकि विद्युत मीटर की कीमत मात्र कुछ ही समय में पूरी हो जाती है साथ ही जमानत के रूप में कनेक्शन लेते समय मोटी रकम वसूली जाती है। कांग्रेसजनों ने मांग की कि राज्य सरकार बढी हुई विद्युत दरों को शीघ्र वापस लेने, राज्य के किसानों को मुफ्त बिजली देने के साथ ही उपभोक्ताओं को एक श्रेणी में लाया जाय तथा दो वर्ष बीतने के उपरान्त उपभोक्ताओं के ऊपर से फिक्स चार्ज व मीटर किराया समाप्त किया जाए।

विरोध-प्रदर्शन में ब्लाक अध्यक्ष, विमला मन्हास, घण्टा घर ब्लाक सीमा जोशी,, रायपुर ब्लाक रीता रानी, कौलागढ़ ब्लाक सुशीला शर्मा, क्लेमनटाउन ब्लाक रुबीना चौधरी, पटेल नगर ब्लाक पुष्पा पंवार, डालनवाला ब्लाक अनुराधा तिवाड़ी, अधोहिवाला ब्लाक कृष्ण देवी , एमडीडीए शशि बाला कन्नौजिया,, प्रेमनगर संगीता सासन, अजबपुर ब्लाक सरिता बिष्ठ, गढीडॉकरा जाखन ब्लाक कविता माहुर, धामा वाला ब्लाक ममता बस्नेत,सरोज भाटिया, नीतू रानी धर्मपुर आदि जगहों पर महिला कांग्रेस ने धरना प्रदर्शन कर सरकार को कुंभ कर्ण नींद से जगाने का काम किया। 



टिप्पणियां