डीएम, एसएसपी ने सड़कों पर उतरकर परखी यातायात व्यवस्था

 


ट्रैफिक नियमों और कोविड प्रोटोकाॅल का पालन न करने वालों पर चालान की कार्रवाई 

भारतनमन / देहरादून 2 अगस्त। शहरी क्षेत्र में यातायात व्यवस्था एवं वाहनों पर कोविड प्रोटोकाॅल का परिपालन आदि व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डाॅ योगेन्द्र रावत ने जनपद के तहसील चौक, घंटाघर, सहस्त्रधारा क्रासिंग पर संयुक्त निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को देखा इस दौरान आरटीओ की टीम, सीपीयू एवं स्थानीय पुलिस द्वारा ओवर लोडिंग, ओवर स्पीडिंग, नो पार्किंग, क्षमता अधिक सवारी तथा वाहनों में सोशल डिस्टंेसिंग एवं मास्क का प्रयोग न करने वालों पर चालान की कार्यवाही की गई ।



  जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा सर्वप्रथम सहस्त्रधारा क्रासिंग पर यातायात का जायजा लिया इस दौरान उन्होंने पाया कि कई लोग बिना मास्क एवं बिना हेलमेट के चल रहे थे तथा कई लोगों द्वारा वाहनों की सीट बैल्ट नहीं लगाई गई है, जिस पर सम्बन्धित वाहन चालकों के चालान के साथ ही भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति होने पर ड्राईविंग लाईसेंस निरस्त किये जाने की चेतावनी दी गई। इसी प्रकार तहसील चौक पर निरीक्षण के दौरान देखा गया कि विक्रम पर क्षमता से अधिक सवारियां बैठा रखी थी तथा कोविड प्रोटोकोल का भी पालन नही किया गया, जिस पर सम्बन्धित विक्रम चालक का चालान किया गया। इसके उपरान्त जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा घण्टाघर पर यातायात व्यवस्थाएं देखी। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा आसपास से गुजर रहे लोग जिनके द्वारा मास्क नहीं लगाए गये थे को मास्क लगाने को कहा गयातथा मानकों की उल्लंघन की पुनरावृत्ति करने पर निर्धारित प्राविधानों के अनुसार कार्यवाही करने की चेतावनी दी गई। इस दौरान घण्टाघर पर आटो चालक द्वारा ओवर स्पीड में होने पर पुलिस द्वारा रोके जाने पर भी न रूकने को गम्भीरता से लेते हुए जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा सम्बन्धित चालक के विरूद्व चालान की कार्यवाही करते हुए मुकदमा दर्ज करने के भी निर्देश दिये गये तथा आटो भी सीज कर दिया गया। 


 इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि कई दिनों से शहर में यातायात व्यवस्था, ओवर स्पीडिंग, ओवर लोडिंग, नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों की वजह से दुर्घटना एवं शहर में जाम की शिकायतें प्राप्त हो रही है तथा यात्री वाहनों पर कोविड प्रोटोकाॅल का भी पालन नही किया जा रहा है, जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं आरटीओ की टीम के साथ संयुक्त निरीक्षण कर जायजा लिया गया। उन्होंने कहा कि शहर की यातायात व्यवस्था को सुधार लाने के लिए आरटीओ एवं यातायात पुलिस को आवश्यक निर्देश दिये गये हैं तथा उनके द्वारा भविष्य में भी समय-समय पर औचक निरीक्षण कर यातायात व्यवस्थाओं का जायजा लिया जायगा, नियमों का उल्लंघन करने वालों पर वर्णित प्राविधानों के अनुसार कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। 



  निरीक्षण के दौरान वरिष्ठ पुलिस ने कहा शहर की यातायात व्यवस्था एवं ओवर स्पीडिंग, ओवरलोडिंग, बिना हेलमेट एवं सीट बैल्ड के ड्राईविंग, नो पार्किंग जोन को फ्री करने हेतु जिला प्रशासन, पुलिस विभाग, एवं परिवहन विभाग द्वारा अभियान चलाकर कार्यवाही की गई है, जो कि आगे भी इस तरह का अभियान चलाकर कार्यवाही की जायेगी। 


  इस दौरान पुलिस अधीक्षक यातायात स्वप्न किशोर, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी रश्मि पंत समेंत यातायात पुलिस, नागरिक पुलिस एवं सीपीयू व परिवहन विभाग के कार्मिक उपस्थित थे।  


टिप्पणियाँ