फूड सेफ्टी अथारिटी की 'ईट राइट स्मार्ट सिटी योजना'


एसके विरमानी / देहरादून। फूड सेफ्टी अथॉरिटी देहरादून एवं स्मार्ट सिटी देहरादून द्वारा शहर के नागरिकों को सुरक्षित एवं पौष्टिक खाद्य वस्तुओं को सुनिश्चित किए जाने के लिए बनाई ईट राइट स्मार्ट सिटी कार्य योजना।

 जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी/अभिहित अधिकारी श्री पीसी जोशी द्वारा बताया गया है कि फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड अथॉरिटी इंडिया द्वारा ईट राइट स्मार्ट सिटी कार्यक्रम बनाया गया है जिसको स्मार्ट सिटी देहरादून के सहयोग से लागू किए जाने का वर्क प्लान तैयार किया गया है जिस के प्रारंभिक चरण में देहरादून स्मार्ट सिटी एरिया में स्थित स्वीट शॉप रेस्टोरेंट होटल स्ट्रीट फूड वेंडर मीट शॉप ऐसे गवर्नमेंट एवं प्राइवेट स्कूल कॉलेज ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट हॉस्पिटल ऑफिस केंपस जहां पर फूड कैंटीन मे तैयार/रेडी टू सर्व किया जाता है ईट राइट केंपस प्रोग्राम के तहत ईट राइट केंपस पोर्टल के माध्यम से जोड़ा जा रहा है और उसमें शहर में ऐसे स्थानों को भी चयनित किया जा रहा है जहां आमतौर पर शहर के लोग एवं टूरिस्ट विशेषत शाम के समय परिवार के साथ खाना खाने जाते हैं उसे स्ट्रीट फूड हब के रूप में 25 से 50 पेटी फूड बिजनेस ऑपरेटर को समूह बनाकर क्लीन स्ट्रीट फूड हब केरूप में विकसित किए जाएंगे और उसमें इंडियन ट्रेडिशनल स्ट्रीट फूड और लोकल ऑर्गेनिक फूड को प्रमोट किया जाएगा और लोकल ऑर्गेनिक फ्रेश फ्रूट वेजिटेबल को प्रमोट किए जाने हेतु क्लीन फ्रेश फ्रूट वेजिटेबल 25 से 50 व्यापारियों को जोड़कर क्लीन फ्रेश ऑर्गेनिक फ्रूट वेजिटेबल हब बनाया जाएंगे जिसमें व्यापारियों की सहायता के लिए फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा अधिकृत ट्रेनिंग स्किल डेवलपमेंट हाइजीन रेटिंग ऑडिट एजेंसीज कि व्यापारी अपने व्यवसाय में निर्धारित समय सीमा के भीतर कमियों को सुधार करने में मदद ले सकता है जो कि फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पोर्टल में उपलब्ध है व्यापारियों को प्रथम चरण मेंपंजीकरण हेतु स्मार्ट सिटी कार्यालय एवं जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी/अभिहित अधिकारी कार्यालय में हेल्प डेस्क बनाएं गए हैं कार्यक्रम को मोबिलाइज करने के लिए व्यापार मंडलों एवं नगर निगम स्थानीय प्रशासन का सहयोग लिया जाएगा।

टिप्पणियाँ