पुलिस फिर चलाएगी 'आपरेशन स्माइल'




 एसके विरमानी / देहरादून। प्रदेश में वर्ष 2020 में चलाये गये ’’ऑपरेशन स्माइल’’ में अपेक्षाकृत अच्छे परिणाम परिलक्षित होने पर श्री अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड के निर्देशन में गुमशुदा पुरूषों, महिलाओं एवं बच्चों की तलाश एवं पुनर्वास हेतु उक्त अभियान को पुनः दिनांक 15 सितम्बर, 2021 से दिनांक 14 अक्टूबर, 2021 तक एक माह हेतु चलाया जा रहा है। अभियान प्रदेश के ऐसे समस्त सम्भावित स्थान जहां गुमशुदाओं के मिलने की सम्भावना अधिक है, जैसे शेल्टर होम्स/ढाबों/कारखानों/बस अड्डा/रेलवे स्टेशन/धार्मिक स्थानों/आश्रमों आदि में विशेष रूप से चलाया जाएगा। पुलिस टीमों द्वारा अपने जनपद के साथ-साथ अन्य जनपदों राज्यों के गुमशुदाओं को भी तलाश किया जा रहा है।

अभियान में जनपद स्तर पर 01 अपर पुलिस अधीक्षक/पुलिस उपाधीक्षक को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। जनपद देहरादून, हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर, नैनीताल में चार टीम (उपनिरीक्षक-1, आरक्षी-4) का गठन किया जाये, जिसमें से 01 टीम एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की नियुक्त की गयी है। शेष जनपदों में एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट द्वारा उक्त अभियान को चलाया जायेगा। रेलवेज में भी एक टीम (उपनिरीक्षक-1, आरक्षी-4) का गठन किया गया है।

प्रत्येक तलाशी टीम में गुमशुदा/बरामद बच्चों व महिलाओं से पूछताछ हेतु एक महिला पुलिस कर्मी भी अनिवार्य रूप से नियुक्त की गयी है। प्रत्येक टीमों की सहायता हेतु 01-01 विधिक (अभियोजन अधिकारी) एवं टेक्निकल टीम (डी0सी0आर0बी0) का भी गठन किया गया है। उक्त अभियान में अन्य सम्बन्धित विभागों/संस्थाओं का भी सहयोग लिया जायेगा। बरामद बच्चों/महिला/पुरूषों के सम्बन्ध में किसी अपराध के घटित होने की जानकारी मिलने पर नियमानुसार कठोर वैधानिक कार्यवाही भी की जायेगी। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने दिए साप्ताहिक बंदी का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश

रेंज प्रभारियों की तरह यातायात निदेशक को दिए गए अधिकार

उत्तराखंड में टूटे अब तक के सारे रिकार्ड, कोरोना के 4807 नये केस, दिन में दो बजते ही बाजार में पसरा सन्नाटा