स्मार्ट सिटी में पर्यटन गतिविधियों के लिए भी स्थान तय हो :महाराज ं

पर्यटन मंत्री की स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट व पर्यटन अधिकारियों के साथ बैठक 

स्मार्ट सिटी में शहीदों को समर्पित दीवार निर्माण का दिया सुझाव 



भारतनमन / देहरादून। प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने मंगलवार को पर्यटन एवं स्मार्ट सिटी के अधिकारियों के साथ बैठक कर देहरादून स्मार्ट सिटी को पर्यटन के अनुरूप विकसित करने पर मंथन किया।

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने मंगलवार को उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद में स्मार्ट सिटी एवं पर्यटन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर स्मार्ट सिटी देहरादून को पर्यटन के अनुरूप विकसित करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिये। इस मौके पर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अधिकारियों ने प्रेजेंटेशन के माध्यम से पर्यटन मंत्री को अभी तक किये गये कार्यों से अवगत कराया।

बैठक के दौरान श्री सतपाल महाराज ने स्मार्ट सिटी अधिकारियों को सुझाव दिया कि स्मार्ट सिटी में उत्तराखंड के शहीदों के समर्पण को देखते हुए उनकी याद में एक दीवार बननी चाहिए, ताकि लोग उनके बलिदान से प्रेरणा ले सकें।

श्री महाराज ने कहा कि हम चाहते हैं कि देहरादून के कुछ मैदान ऐसे हैं जिन्हें पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जा सकता है। उन्होने ऐसे मैदानों को पर्यटन विभाग को दिये जाने को भी कहा ताकि उसे पर्यटन गतिविधियों के लिए विकसित किया जा सके।

श्री महाराज ने कहा कि दुनिया की हर स्मार्ट सिटी के अंदर पर्यटन गतिविधियों के लिए एक स्थान चिन्हित होता है। जहां लोग घूमते हैं और पर्यटन का लुफ्त उठाते हैं। हम चाहते हैं कि देहरादून स्मार्ट सिटी के अंदर भी पर्यटकों के लिए एक ऐसा ही स्थान बने जहां लोग अपनी संस्कृति की झलक से रूबरू हो सकें।

पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज ने बताया कि ओएनजीसी हेलीपैड की देख रेख का जिम्मा पर्यटन विभाग को दिया जाए। 

उन्होंने कहा कि केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट से भी उन्होंने इस संबंध में अनुरोध किया है। हम चाहते हैं कि पर्यटकों के लिए वहां से मसूरी के लिए हेलीकॉप्टर का संचालन किया जा सके।

बैठक में स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कंसलटेंसी के एजीएम तकनीकी श्री जगमोहन सिंह चौहान, प्रोजेक्ट मैनेजर श्री कृष्ण पल्लव चमोला, एजीएम इलेक्ट्रॉनिक श्री आशीष दयाल सक्सेना, जेई सिविल चिन्मय सिंह, अपर सचिव पर्यटन श्री युगल किशोर पंत, अवस्थापना निदेशक (पर्यटन) श्री दीपक खंडूरी, अधीक्षण अभियंता श्री शरद श्रीवास्तव सहित अनेक अधिकारी मौजूद।


टिप्पणियाँ