जौनसार बाबर क्षेत्र के लोगों ने महाराज को सम्मानित किया


भारतनमन / देहरादून। कालसी जौनसार बावर क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से आगे बढ़ाने, महासू देवता के धार्मिक पौराणिक महत्व को जनसामान्य तक पहुंचाने और उसके प्रचार प्रसार के लिए कालसी जौनसार बावर क्षेत्र के लोगों ने बुधवार को प्रदेश के पर्यटन, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री  सतपाल महाराज को सम्मानित किया।

कालसी, जौनसार बावर क्षेत्र लोगों ने बुधवार को महासू देवता सहित तमाम धार्मिक स्थलों के पौराणिक भक्तों को जनसामान्य तक पहुंचाने के साथ-साथ उसके प्रचार प्रसार के लिए प्रदेश के पर्यटन, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री  सतपाल महाराज का सुभाष रोड़ स्थित कैंप कार्यालय में पहुंचकर सम्मान किया।

कालसी जौनसार बावर क्षेत्र के लोगों ने श्री महाराज का स्वागत करते हुए कहा कि आज उनके प्रयासों से जौनसार बावर क्षेत्र के धार्मिक एवं पौराणिक महत्व के स्थलों को एक विशिष्ट पहचान मिली है। 

चारों महासू देवता बासिक महासू, पबासिक महासू, बोठिया महासू और चालदा महासू के साथ-साथ मैन्द्रथ मंदिर, ठढियार मंदिर, मोहना मंदिर, हनोल मंदिर, समाल्टा मंदिर, दसऊ मंदिर, थैना मंदिर, बिसोई मंदिर, लखवाड़ मंदिर एवं लखस्यार मंदिर को पर्यटन विभाग द्वारा प्रचारित एवं प्रसारित करने पर उन्होने प्रसन्नता जाहिर की। 

उन्होंने  कहा कि श्री महाराज के प्रयासों से तमाम मंदिरों के धार्मिक एवं पौराणिक महत्व के इन स्थलों को पर्यटन एवं तीर्थाटन की दृष्टि से विकसित करने से क्षेत्र के लोगों में अपार उत्साह एवं प्रसन्नता है।

इस मौके पर क्षेत्र पंचायत सदस्य नरेश चौहान, दलीप बिष्ट, रणवीर, कांति राणा, आनंद तोमर, जयवीर चौहान, दिनेश शर्मा, सोहनवीर, सुनील, अमित, कुंदन आदि अनेक लोग मौजूद थे।

टिप्पणियाँ